दुनिया का बेहतरीन  एयर डिफेंस सिस्टम है S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम 
दुनिया का बेहतरीन  एयर डिफेंस सिस्टम है S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम फोटो : रॉयटर्स 
  • 1. क्या है S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम ?
  • 2. कितना कारगर है S-400 मिसाइल सिस्टम?
  • 3. भारत को S-400 की जरूरत क्यों पड़ी?
  • 4. भारत को S-400 हासिल करने की जल्दबाजी क्यों?
  • 5. अमेरिका क्यों कर रहा है सौदे का विरोध?
  • 6. क्या अमेरिका मान जाएगा?
रूस से S-400 मिसाइल सिस्टम खरीद कर चीन-पाक से ऐसे टक्कर लेगा भारत

रूसी राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन के भारत दौरे में S-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम सौदे पर मुहर लग गई है. रूस पिछले काफी वक्त से 5 अरब डॉलर के इस सौदे पर भारत से बात कर रहा था और अमेरिकी की नाराजगी के बावजूद भारत इस मिसाइल डिफेंस सिस्टम को खरीदने को तैयार है.

आइए जानते हैं, क्या है S-400 ट्रायम्फ मिसाइल सिस्टम? क्या है इसकी खासियतें? और अमेरिकी नाराजगी के बावजूद भारत ने आखिर क्यों रूस के साथ ये सौदा किया है.

  • 1. क्या है S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम ?

    रूस का S-400 ट्रायम्फ मिसाइल सिस्टम मौजूदा दौर का सबसे अच्छा मिसाइल डिफेंस सिस्टम माना जा रहा है. अमेरिका समेत नाटो देश इसे बेहद खतरनाक मानते हैं. जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइलों से लैस इस सिस्टम को नाटो देशों ने SA-21 ग्रोलर नाम दिया है. रूस के अल्माज सेंट्रल डिजाइन ब्यूरो की ओर से विकसित यह मिसाइल सिस्टम S-300 सीरीज का एडवांस वर्जन है.

    1990 के दशक में विकसित इस मिसाइल सिस्टम को 'द इकोनॉमिस्ट' ने 2017 में दुनिया के बेहतरीन मिसाइल डिफेंस सिस्टम करार दिया है. रूस ने पहली बार इसका इस्तेमाल 2007 में किया था. इसे अमेरिका के THAAD (Terminal High Altitude Area Defense) सिस्टम से अच्छा माना जा रहा है. हालांकि दोनों की हथियार प्रणाली अलग-अलग है. रूस ने हाल में इसे सीरिया में भी इस्तेमाल किया है.

पीछे/पिछलाआगे/अगला

Follow our कुंजी section for more stories.

वीडियो