ADVERTISEMENTREMOVE AD

International Day of Yoga: वर्क फ्रॉम होम करने वालों के लिए योगासन

Updated
flex-em
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

तेजी से बदल रही लाइफस्टाइल और 21वीं सदी में बढ़ते तनाव के साथ योग ज्यादातर लोगों के लिए अच्छे भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए बेहद महत्वपूर्ण बन गया है. वैज्ञानिक शोध से यह साबित हुआ है कि योग तनाव को घटाने, जागरुकता बढ़ाने, प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाने और शरीर के बाकी सिस्टम को दुरुस्त बनाए रखने के साथ मानसिक स्वास्थ्य में भी मदद कर सकता है.

कोविड-19 की वजह से ज्यादातर लोगों को अपना ऑफिस का काम घर पर शिफ्ट करना पड़ा है. चिंता और अवसाद की मौजूदा स्थिति के साथ-साथ घर से काम करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है.

ऐसे में योग करने से आपकी याददाश्त और एकाग्रता स्तर में इजाफा हो सकता है. इससे कई कार्य कुशलता से करने के लिए आपकी क्षमता में सुधार आता है और साथ ही आपकी प्रोडक्टिविटी भी बढ़ती है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हम में से ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं, जिसके लिए अनुशासन और प्रतिबद्धता जरूरी है. इस योग दिवस पर, अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ फर्क फ्रॉम होम में अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए इन 6 योगासनों को आजमाएंः

1. ताड़ासन

आसन की विधि

  • अपने पैरों को कंधे से मिलाकर खड़े हो जाएं

  • अपनी बाहों को अपने धड़ के पास रखें और सांस लें

  • अब अपनी बांहों को फैलाएं और अपनी उंगलियों को सिर के ऊपर से जोड़ें

  • अपनी एड़ियों को उठाएं और अपने हाथ छत की ओर ले जाएं

  • धीरे से सांस लें और अपनी नाभि को अंदर की ओर खींचें

  • अपनी एड़ियों को उठाए रखें और अपने हाथों को छत की ओर रखें

  • सांस छोड़ें और धीरे-धीरे अपनी एड़ियों को वापस नीचे लाएं और उंगलियां खोल दें

0

2. प्रणाम आसन

आसन की विधि

  • फर्श पर सीधे खड़े हो जाएं और अपने दोनों पैरों को एक-दूसरे से मिलाकर रखें

  • अपनी बाहों को हृदय के सामने रखें

  • कोहनियां बाहर की ओर रखें और इन्हें अपनी छाती से बाहर की ओर रखें

  • अपनी हथेलियों को आपस में जोड़े रखें और आराम से सांस लें

ADVERTISEMENT

3. नौकासन

आसन की विधि

नौकासन
(फोटो: योग गुरु अक्षर)
  • अपनी टांगों को फैलाकर चटाई पर बैठ जाएं

  • अपने घुटनों को मोड़ें और अपने धड़ के बल पीछे की ओर झुकें

  • बाहों को अपने सामने की ओर रखें और टांगों को 45 डिग्री की दिशा में उठाएं

  • अपने हाथों को फर्श के समानांतर रखते हुए अपनी नजर पैर के अंगूठे या नाक पर बनाए रखें

  • मुद्रा को छोड़ते वक्त सांस लें

ADVERTISEMENTREMOVE AD

4. संतुलासन

आसन की विधि

  • वज्रासन में बैठें. घुटनों के बल खड़े हो जाएं और हाथों की हथेलियों को कंधों के नीचे फर्श पर रखें.

  • नितंबों को ऊपर उठाएं और घुटनों को सीधा करें.

  • कंधों को आगे की ओर ले जाएं और नितंबों को तब तक गिराएं जब तक कि शरीर सीधा न हो जाए. बाहें लंबवत होनी चाहिए.

  • यह ध्यान रखें कि आपकी उंगलियां मजबूती से फर्श को दबाएं

  • सुनिश्चित करें कि आप फर्श पर सीधे नीचे देखें

  • अपने गले और आंखों को ढीला रखें और कुछ देर उसी मुद्रा में रहें.

ADVERTISEMENT

5. वशिष्ठासन

आसन की विधि

वशिष्ठासन

(फोटो: iStock)

  • संतुलासन से शुरुआत करें

  • अपनी बाईं हथेली को मजबूती से जमीन पर टिकाएं, अपने दाहिने हाथ को फर्श से उठा लें

  • अपना पूरा शरीर दाहिनी तरफ केंद्रित करें और दायां पैर फर्श से ऊपर उठाएं और अपनी बाईं टांग पर साधे रखें

  • अपनी दाईं बांह ऊपर उठाएं और अपनी उंगलियां आकाश की ओर रखें

  • सुनिश्चित करें कि आपके दोनों घुटने, एड़ियां और पैर एक-दूसरे से सटे हुए हों

  • सुनिश्चित करें कि दोनों बाहें और कंधे एक सीधी रेखा में हों

  • अपना सिर उठाएं और अपने दाएं हाथ की ओर देखें

  • कुछ समय इसी मुद्रा में रहें

  • अब इसे बाईं तरफ से भी दोहराएं

ADVERTISEMENTREMOVE AD

6. भ्रामरी प्राणायाम

आसन की विधि

भ्रामरी प्राणायाम

(फोटो: iStock)

  • आरामदायक मुद्रा में बैठ जाएं और अपनी रीढ़ को सीधा रखें

  • अपनी आंखें तर्जनी से, मुंह को अनामिका और छोटी उंगलियों से और कानों को अंगूठें से बंद रखें

  • नाक से गहरी सांस लें और ‘हम्म’ जैसी आवाज करते हुए धीरे-धीरे सांस छोड़ें

  • चार राउंड तक इसे दोहराएं

  • आप दिन में पांच मिनट तक इस सांस संबंधित तकनीक का अभ्यास शुरू कर सकते हैं और फिर धीरे-धीरे इसका समय बढ़ा सकते हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×