ADVERTISEMENTREMOVE AD

कई देशों ने साबित किया कोरोना महामारी को कंट्रोल करना संभव है: WHO

Updated
Health News
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) के डायरेक्टर-जनरल ट्रेडोस अधनोम घेब्रेयसस ने कहा है कि स्पेन, चीन, दक्षिण कोरिया, इटली और यूरोप के कई देशों ने ये दिखाया है कि कोरोना महामारी को नियंत्रित करना और इस वायरस को फैलने से रोकना संभव है.

उन्होंने कहा कि दुनिया भर के लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. भीड़-भाड़ वाली जगह पर मास्क पहनने की बड़ी जरूरत है, जो कि वायरस को रोकने के लिए आवश्यक है.

भीड़ से बचना, खांसी होने पर मुंह ढकना तथा अक्सर हाथ धोने की आदत बनाए रखना चाहिए.
ट्रेडोस अधनोम घेब्रेयसस, डायरेक्टर-जनरल, WHO
ADVERTISEMENTREMOVE AD

'जरूरी नहीं कि नोवल कोरोना वायरस की उत्पत्ति वुहान में हुई हो'

WHO स्वास्थ्य आपातकालीन परियोजना के प्रधान माइकल रयान ने कहा कि चीन के वुहान शहर में नये कोरोना वायरस संक्रमण का पता चला क्योंकि यहां अलग तरह के निमोनिया के मामलों की पहचान के लिए एक खास मॉनिटरिंग सिस्टम मौजूद था, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि वुहान शहर ही नये कोरोना वायरस का उद्गम स्थल हो यानी जरूरी नहीं कि यहीं से बीमारी जानवरों से इंसानों में आई हो.

0

'कोरोना के लिए कोई रामबाण नहीं'

ट्रेडोस ने कहा कि अब कई वैक्सीन क्लीनिकल ट्रायल के फेज 3 में हैं और हम सभी उम्मीद करते हैं कि हमें असरदार वैक्सीन मिले जो लोगों को इंफेक्शन से बचा सके. हालांकि अभी तक कोविड-19 के लिए कोई रामबाण नहीं है और शायद ऐसा कुछ कभी हो भी नहीं.

वर्तमान में हम कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए पब्लिक हेल्थ और रोग नियंत्रण के बुनियादी चीजों पर निर्भर हैं, जिसमें टेस्ट करना, आइसोलेट करना और मरीजों को ट्रीट करना और उनके संपर्क में आए लोगों को ट्रेस और क्वॉरन्टीन करना शामिल है.

(इनपुट: WHO, IANS)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×