ADVERTISEMENT

सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की मौत- युवाओं में क्यों बढ़ रहे हार्ट अटैक के मामले?

Updated
heart
2 min read
सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की मौत- युवाओं में क्यों बढ़ रहे हार्ट अटैक के मामले?

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

कन्नड़ फिल्म स्टार पुनीत राजकुमार की हार्ट अटैक के बाद मौत हो गई है. वो 46 साल के थे. शुक्रवार 29 अक्टूबर 2021 की सुबह सीने में दर्द के बाद उन्हें बेंगलुरु के विक्रम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुनीत जिम में वर्क आउट करते हुए अचानक गिर गए थे और उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया.

बेंगलुरु के विक्रम हॉस्पिटल से डॉ रंगनाथ नायक ने ANI से बताया कि एक्टर पुनीत राजकुमार को सीने में दर्द के बाद गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती कराया गया था.

विक्रम हॉस्पिटल की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि पुनीत राजकुमार के फैमिली डॉक्टर द्वारा ECG के जरिए हार्ट अटैक का पता चला था, उन्हें हॉस्पिटल लाया गया. इमरजेंसी में लाए जाने के दौरान मरीज में कोई प्रतिक्रिया नहीं थी और दिल में गतिविधि नहीं थी. कार्डियक लाइफ सपोर्ट के जरिए गतिविधि लाने की कोशिश की गई. तमाम उपायों के बावजूद स्थिति में सुधार नहीं हुआ. 2:30 बजे उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

ADVERTISEMENT

इस साल टेलीविजन हस्ती और फिल्म अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला का सितंबर में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. सिद्धार्थ 40 साल के थे. इस साल जून में, एक्ट्रेस मंदिरा बेदी के पति, भारतीय फिल्म निर्माता राज कौशल का हार्ट अटैक के बाद कार्डियक अरेस्ट से निधन हो गया. वह 49 साल के थे.

युवाओं में बढ़ रहे हार्ट अटैक के मामले, वजह क्या है?

फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हार्ट इंस्टीट्यूट में कार्डियक साइंसेज के एडिशनल डायरेक्टर डॉ. विशाल रस्तोगी कहते हैं, "बढ़ती उम्र दिल से जुड़ी बीमारियों और समस्याओं के उन जोखिम कारकों में से एक है, जो हमारे हाथ में नहीं है."

युवाओं में हार्ट अटैक की वजह-

  • खाने की खराब आदतें, बैठी रहने वाली लाइफस्टाइल, एक्सरसाइज न करना, स्मोकिंग

  • जरूरत से ज्यादा काम और नतीजतन तनाव

  • जेनेटिक वजहें

डॉ रस्तोगी कहते हैं कि युवा अपने 'प्राइम इयर्स' में स्वास्थ्य की देखभाल नहीं करते हैं और जीवन में कुछ हासिल करने की धुन में अपनी लाइफस्टाइल पर ध्यान नहीं दे रहे हैं.

हार्ट अटैक के शुरुआती संकेत

  • सीने में दर्द

  • छाती या पेट के ऊपरी हिस्से में भारीपन और दबाव

  • जबड़े में दर्द या बेचैनी

  • अचानक पसीना आना

  • सांस की तकलीफ या छाती में रुकावट का एहसास

  • सीने में जलन जैसा महसूस होना

ADVERTISEMENT

क्या है कार्डियक अरेस्ट?

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के मुताबिक जब हार्ट के फंक्शन में अप्रत्याशित रुकावट आ जाए तो इसे कार्डियक अरेस्ट कहते हैं, जब हार्ट ठीक तरीके से नहीं धड़कता है.

इसका कारण दिल में इलेक्ट्रिकल डिसटर्बेंस से पंपिंग कार्य रुक जाना हो सकता है, जिससे बाकी शरीर में रक्त का प्रवाह रुक जाता है.

कार्डियक अरेस्ट के लक्षण

मेयो क्लीनिक के मुताबिक इसमें अप्रत्याशित तरीके से दिल काम करना बंद कर देता है, सांस थम जाती है या बेहोशी आ जाती है.

इसके लक्षण इस तरह हैंः

  • धड़कन नहीं होना

  • अचानक गिर जाना

  • सांस ना आना

  • बेहोशी

ADVERTISEMENT

डॉक्टरों के मुताबिक कई लक्षण होते हैं, जिन पर हमें चेत जाना चाहिए. जैसे- थकान, चक्कर आना, छोटी-छोटी सांसें लेना, कमजोरी, तेज धड़कन और उल्टी आना.

हालांकि कार्डियक अरेस्ट बिना किसी चेतावनी के भी हो सकता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×