ADVERTISEMENTREMOVE AD

मेंसुरेशन क्रैम्प कम करने के लिए 7 खाद्य पदार्थ

Published
women-health
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

मेंसुरेशन अक्सर अन्य बुरे दुष्प्रभावों के साथ आता है जैसे कि दस्त, मूड चेंज, अपच, इरिटेशन और दर्दनाक क्रैम्प.

डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेज़ के अनुसार, आधे से अधिक, लगभग 84 प्रतिशत, लोगों को पीरियड के समय दर्द का अनुभव होता है.

क्योंकि यह दर्द इतने लोगों को होता है, और वह भी इतना दुर्बल करने वाला दर्द, लोग अक्सर अपने दैनिक कार्यों को पूरा करने के लिए संघर्ष कर सकते हैं जब उन्हें पीरियड आ रहा होता है.

यहां कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ दिए गए हैं, जिन्हें आप अपने आहार में शामिल कर अपने पीरियड की परेशानी और दर्द को कम कर सकते हैं.

मछली

पबमेड सेंट्रल के अनुसार, सैल्मन, मैकेरल, हेरिंग और सार्डिन जैसी मछलियां, जिनमें ओमेगा -3 फैटी एसिड होता है, जो सूजन कम करता है, पीरियड के दर्द को कम करने में मदद कर सकती हैं. यह मूड स्विंग और इरिटेशन को भी नियंत्रित करने में मदद करते हैं.

एनसीबीआई के अनुसार, विटामिन डी पीरियड के सभी लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है, और विटामिन बी-6 स्तन कोमलता और चिड़चिड़ापन को कम करने में मदद कर सकता है.

फल

केले और संतरे की मदद लें 

(फ़ोटो: iStock)

फल सदियों से महत्वपूर्ण पोषक तत्वों और स्वास्थ्य लाभ के स्रोत रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये पोषक तत्व, विशेष रूप से उच्च फाइबर वाले फल, पीरियड के दर्द और क्रैम्प को एक बड़े स्तर तक नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं (हेल्थलाइन के अनुसार).

केले और संतरे पोटेशियम के बड़े स्रोत हैं, पोटेशियम की कमी से मांसपेशियों में क्रैम्प हो सकती है.

लेंटिल्स

यूएस एनआईएच के अनुसार, जब आप अपने पीरियड्स में होते हैं, तो आपके आयरन का स्तर कम हो जाता है, और दाल, जो आयरन, प्रोटीन और फाइबर से भरपूर होते हैं, आयरन के स्तर को प्रबंधित करने में मदद करते हैं. इसके अलावा, फाइबर पेट दर्द को कम करने में मदद कर सकता है.

अलसी

मेडिकल न्यूज टुडे के अनुसार, अलसी आपके पीरियड्स के दौरान फायदेमंद हो सकती है और आपके दर्द और परेशानी को कम करने में मदद कर सकती है. अलसी के बीज दर्द की तीव्रता को कम करने के लिए जाने जाते हैं और इनमें मौजूद फैटी एसिड प्रोजेस्टेरोन के उत्पादन को स्टैबल करने में मदद करते हैं.

इसके अलावा, यह प्रजनन क्षमता को बढ़ावा देता है और यूटरिन फंक्शन में सुधार लाता है. यह बहुत वर्सटाइल भी है. आप इसका आनंद अपनी स्मूदी, सलाद, सीरियल या दही के साथ ले सकते हैं.

डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट पीरियड क्रैम्प को कम कर सकती है 

(फ़ोटो: iStock)

यूएस एनआईएच के अनुसार, डार्क चॉकलेट पीरियड क्रैम्प में मदद कर सकती है. लेकिन, यह मिल्क चॉकलेट पर लागू नहीं होता है.

डार्क चॉकलेट में पाए जाने वाला मैग्नीशियम, यूटरिन कन्ट्रैक्शन और उसके परिणामस्वरूप होने वाले क्रैम्प को मैनेज करने में मदद करता है. वह प्रोस्टाग्लैंडीन के उत्पादन को भी कम करता है जो कन्ट्रैक्शन को उत्तेजित करते हैं.

ध्यान रखें कि, डार्क चॉकलेट और इसके क्रैम्प को कम करने वाले प्रभाव के बीच की कड़ी को समझने के लिए अभी और अधिक अध्ययन की आवश्यकता है.

अदरक

अदरक का उपयोग औषधीय अथवा भोजन में डालने के लिए किया जाता रहा है.

पबमेड सेंट्रल के अनुसार, इसके दर्द से राहत और सूजन-रोधी गुणों के कारण इसे पीरियड्स के दौरान घरेलू उपचार के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है.

हरी पत्तेदार सब्जियां

हेल्थलाइन के अनुसार, आयरन का निम्न स्तर पीरियड क्रैम्प को और भी मुश्किल बना सकता है और पीएमएस लक्षण भी पैदा कर सकता है.

आयरन न केवल रक्त कोशिकाओं को मांसपेशियों में अधिक ऑक्सीजन पहुंचाने में मदद करता है, बल्कि उन्हें आराम देने और सेरोटोनिन हार्मोन के स्राव को भी बढ़ाकर आपके मूड और प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम को बेहतर बनाने के लिए भी जिम्मेदार है.

इसके अलावा, आयरन के निम्न स्तर के परिणामस्वरूप एनीमिया भी हो सकता है.

हरी पत्तेदार सब्जियां, खासकर पालक, आयरन का बहुत अच्छा स्रोत हैं.

(यह लेख केवल आपकी सामान्य जानकारी के लिए है. किसी भी उपाय को आजमाने से पहले, फिट हिंदी आपको एक योग्य चिकित्सा पेशेवर से परामर्श करने की सलाह देता है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×