छत्तीसगढ़ में दोगुना खतरनाक हुआ कोरोना,ये हैं सबसे पीड़ित 5 राज्य

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अगले 4 हफ्ते बहुत नाजुक होंगे.

Updated
फिट
3 min read
अप्रैल में हर रोज कोरोना के रिकॉर्ड नए केस
i

देश में कोरोना के नए मामलों में तेजी हर दिन नए रिकॉर्ड कायम कर रही है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने 8 अप्रैल 2021 को पिछले 24 घंटों में 1 लाख 26 हजार से ज्यादा नये कोरोना केसेज की सूचना दी है.

भारत में पिछले 24 घंटे में COVID-19 के 1,26,789 नए मामले आए हैं, जो अब तक नए मामलों में सबसे बड़ा उछाल है.

इस तरह देश में कोरोना के कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,29,28,574 हो गई है. कोरोना के सक्रिय मामलों की कुल संख्या 9,10,319 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,18,51,393 है.

छत्तीसगढ़ में दोगुना खतरनाक हुआ कोरोना,ये हैं सबसे पीड़ित  5 राज्य

कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के नए आंकड़े डराने लगे हैं. बीते 7 अप्रैल को COVID-19 के 1,15,736 नए मामले आए थे और इससे पहले 5 अप्रैल को कोरोना के 1,03,558 नए मामले सामने आए थे.

भारत में पिछले 8 दिनों में कोरोना की स्थिति

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अगले 4 हफ्ते बहुत नाजुक होंगे.

रोजाना कोरोना रोगियों की मौत

8 अप्रैल 2021 को जारी पिछले 24 घंटों के अपडेट के मुताबिक देश में एक दिन में 685 कोविड रोगियों की मौत के साथ मौतों की कुल संख्या 1,66,862 हो गई है.

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 5 राज्य

महाराष्ट्र के बाद जिस राज्य में कोरोना का विस्फोट दिख रहा है, वो है छत्तीसगढ़. इस राज्य में 1 सप्ताह के भीतर कोरोना के एक्टिव केस में दोगुना से भी ज्यादा उछाल देखा गया है.

1अप्रैल की सुबह तक राज्य में 25,529 एक्टिव केस दर्ज किए गए थे, 8 अप्रैल की सुबह तक ये संख्या 58,883 हो चुकी है.

छत्तीसगढ़ में दोगुना खतरनाक हुआ कोरोना,ये हैं सबसे पीड़ित  5 राज्य

इन राज्यों में 10 हजार से ज्यादा एक्टिव मामले

छत्तीसगढ़ में दोगुना खतरनाक हुआ कोरोना,ये हैं सबसे पीड़ित  5 राज्य

कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर महाराष्ट्र, दिल्ली के बाद अब पंजाब, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के मुताबिक भारत में 7 अप्रैल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 25,26,77,379 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 12,37,781 सैंपल 7 अप्रैल को टेस्ट किए गए.

वहीं 16 जनवरी से शुरू हुए सामूहिक टीकाकरण अभियान के तहत अब तक देश में 9 करोड़ से ज्यादा कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं.

कोरोना महामारी से बचाव के लिए देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश वैक्सीनेशन अभियान तेज कर रहे हैं. 11 अप्रैल से निजी और सरकारी सभी कार्यस्थलों पर कोरोना टीकाकरण लगाया जाएगा. इसमें 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को कोविड वैक्सीन दी जाएगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!