CAA पर विपक्ष को जवाब देने के लिये 10 दिनों का विशेष अभियान:BJP
CAA पर प्रदर्शन के बीच NPR के लिए केंद्र ने दी 3,941 Cr की मंजूरी
CAA पर प्रदर्शन के बीच NPR के लिए केंद्र ने दी 3,941 Cr की मंजूरी(फोटोः Altered By Quint)

CAA पर विपक्ष को जवाब देने के लिये 10 दिनों का विशेष अभियान:BJP

नयी दिल्ली, 21 दिसंबर (भाषा) भाजपा ने शनिवार को आरोप लगाया कि नागरिकता संशोधन अधिनियम पर विपक्ष और मुख्यतः कांग्रेस द्वारा भ्रम फैलाया जा रहा है और पार्टी ‘भ्रम और झूठ’ की विपक्ष की राजनीति का जवाब देने के लिये 10 दिनों का विशेष अभियान चलायेगी और तीन करोड़ से ज्यादा परिवारों से संपर्क करेगी ।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने ट्वीट किया, ‘‘ कांग्रेस और पाकिस्तान की भाषा मिलती-जुलती है। कांग्रेस और पाकिस्तान का यह वैचारिक मेल देश के लिए घातक है। हमें दोगुनी ताकत से कांग्रेस के दोहरे रवैये और ‘नागरिकता संशोधन कानून' की आड़ में जारी उसके कुचक्र को जनता के सामने बेनकाब करना है। ’’

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष ने शनिवार को भाजपा मुख्यालय में पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 पर चर्चा की।

नड्डा ने कहा कि भाजपा द्वारा कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, वामपंथी और कांग्रेस की सहयोगी पार्टियों द्वारा देश में ‘‘हिंसा और नफरत’’ की राजनीति को बढ़ावा देने वाली साजिश का पर्दाफ़ाश करने के लिए आने वाले 10 दिनों में एक ‘देशव्यापी कार्यक्रम' चलाया जायेगा ।

उन्होंने कहा कि पार्टी हर मंच पर उनके (विपक्ष) षड्यंत्र का पर्दाफ़ाश करेगी।

नड्डा ने कहा कि कांग्रेस सहित विपक्ष के जिम्मेदार राजनीतिक दलों का गैर-जिम्मेदाराना रवैया निराशाजनक और निंदनीय है। ऐसी स्थिति में भारतीय जनता पार्टी की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है । वहीं, भाजपा के महासचिव भूपेन्द्र यादव ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए आरोप लगाया, ‘‘नागरिकता संशोधन अधिनियम पर विपक्ष और मुख्यतः कांग्रेस द्वारा भ्रम फैलाया जा रहा है । विपक्ष द्वारा भ्रम और झूठ की राजनीति की जा रही है, उसका हम जवाब देंगे। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं कांग्रेस के नेताओं से पूछना चाहता हूं कि क्या पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 2003 में बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने की अपील की थी ?’’

भाजपा नेता ने पूछा कि क्या कांग्रेस देश में आगजनी का और उपद्रव का समर्थन करती है? क्या एक विपक्षी दल इस विषय पर भारत के बाहर दूतावास पर प्रदर्शन करता है, क्या वो इस नीति को उचित मानते हैं? यादव ने कहा कि भाजपा का मानना है कि धार्मिक प्रताड़ना के शिकार हुए अनेक लोगों को नागरिकता संशोधन कानून के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नयी आशा, विश्वास, सुरक्षा, आस्था, गरिमापूर्ण जीवन देने का मार्ग प्रशस्त हुआ है । उन्होंने कहा, ‘‘ हमारी पार्टी ने तय किया है कि आने वाले 10 दिनों में एक विशेष अभियान चलाकर घर-घर जाकर नागरिकता संशोधन कानून के संदर्भ में तीन करोड़ से ज्यादा परिवार से संपर्क करेंगे । ’’

भाजपा महासचिव ने कहा कि इस कानून के पक्ष में हर जिले में रैली और सभा की जाएंगी। 250 से ज्यादा स्थानों पर पार्टी पत्रकार वार्ता करेगी उन्होंने यह भी कहा कि आज देश के 1,101 शिक्षाविदों ने अपने हस्ताक्षर के द्वारा इस कानून का समर्थन किया है। अनेक विश्वविद्यालयों से इस संदर्भ में पत्र प्राप्त हुए हैं । भाषा दीपक

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)


Follow our अभी - अभी section for more stories.

    Loading...