ADVERTISEMENT

कमलनाथ के केक काटने पर विवाद, बीजेपी ने हिंदुओं के अपमान का लगाया आरोप

कमलनाथ का केक मंदिर की आकृति में था जिसके बाद बीजेपी ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया है.

Published
कमलनाथ के केक काटने पर विवाद, बीजेपी ने हिंदुओं के अपमान का लगाया आरोप
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ केक विवाद में घिरते नजर आ रहे हैं। बीजेपी ने अपने जन्मदिन पर कमलनाथ द्वारा मंदिरनुमा केक काटने की तीखी आलोचना करते हुए उन पर देश के करोड़ों हिंदुओं की भावना का अपमान करने का आरोप लगाया है। बीजेपी ने मध्य प्रदेश से लेकर राजधानी दिल्ली तक कमलनाथ और कांग्रेस की घेरेबंदी शुरू कर दी है।

गुरुवार को भाजपा आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने कमलनाथ के केक काटने के वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट कर कहा, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने चार मंजिल वाले मंदिर के आकार के केक पर चाकू चलाया, जिसके ऊपर भगवा ध्वज और भगवान हनुमान की तस्वीर थी। चुनावों के दौरान उन्होंने हनुमान भक्त होने का दावा किया था और अब हिंदुओं के देवता का अपमान कर करोड़ों हिंदुओं का अपमान कर रहे हैं।

इससे पहले बुधवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस तरह का केक काटने के लिए कमलनाथ और उनकी पार्टी कांग्रेस पर तीखा राजनीतिक हमला बोलते हुए इसे सनातन परंपरा और हिंदू धर्म का अपमान करार दिया था।

शिवराज सिंह चौहान ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर का कांग्रेस द्वारा विरोध करने की बात को याद दिलाते हुए यह कहा था कि कांग्रेसियों का भगवान की भक्ति से कोई लेना-देना ही नहीं है, यह बगुला भगत हैं। इनकी पार्टी कभी श्रीराम मंदिर का विरोध करती थी और आज केक पर हनुमान जी की तस्वीर बना कर उसे काट भी रहे हैं। सीएम शिवराज ने कांग्रेस को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा था कि यह सनातन परंपरा और हिंदू धर्म का अपमान है, जिसको यह समाज कभी भी स्वीकार नहीं करेगा।

--आईएएनएस

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×