ADVERTISEMENTREMOVE AD

Rajat Patidar तेज गेंदबाजी छोड़ बनने गए स्पिनर-बने बैटर, IPL के लिए टाल दी शादी

IPL 2022 RCB vs RR : सर्जरी के 18 महीने बाद की वापसी, शतक के बाद अब राजस्थान के खिलाफ जड़ा अर्धशतक

Updated
IPL 2024
5 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

Tata IPL 2022 RCB vs RR : इंडियन प्रीमियर लीग IPL 2022 का रोमांच चरम पर है. इस बार मुंबई इंडियन्स और चेन्नई सुपर किंग्स जैसी दिग्गज टीमें खराब प्रदर्शन के कारण शीर्ष चार में जगह बनाने से चूक गईं वहीं डेब्यू करने वाली दोनों टीमें गुजरात टाइटन्स और लखनऊ सुपर जायन्ट्स टॉप 4 में जगह बनाई. गुजरात ने तो सीधे फाइनल में एंट्री कर ली है. जबकि लखनऊ की टीम एलिमिनेटर मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से हार गई. अब दूसरे एलिमिनेटर मुकाबले में RCB के सामने राजस्थान रॉयल्स है जहां एक बार फिर रजत पाटीदार ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक जड़ दिया है. इससे पहले के मैच में RCB की जीत के हीरो भी रजत पाटीदार रहे थे, जिन्होंने 54 गेंदों में 112 रन बनाए थे. इस शतकीय पारी में रजत ने कई रिकॉर्ड्स भी बनाए थे. आइए अनकैप्ड प्लेयर रजत पाटीदार के बारे में विस्तार से जानते हैं...

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पहले एक नजर रजत पाटीदार के रिकॉर्ड्स पर

टाटा आईपीएल 2022 में पहले एलिमिनेटर मैच में RCB और LSG आमने-सामने थीं. इस मैच में आरसीबी ने 14 रनों से जीत दर्ज करते हुए एलिमिनेटर 2 में जगह बनाई. इस मैच में रजत पाटीदार ने शतक लगाकर खूब सुर्खियां बटोरी. अब बैंगलोर के सामने राजस्थान की चुनौती होगी.

पाटीदार ने अपनी शतकीय पारी में ये रिकॉर्ड्स बना डाले :

  • रजत पाटीदार रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की ओर से प्ले ऑफ में सेंचुरी जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बने.

  • आईपीएल प्ले ऑफ में शतक लगाने वाले पहले अनकैप्ड खिलाड़ी बने.

  • आईपीएल 2022 यानी इस सीजन में सबसे तेज सेंचुरी रजत के बल्ले से निकली है. उन्होंने 49 गेंदों में शतक जड़ा, इससे पहले केएल राहुल ने 56 गेंदों में सेंचुरी लगाई थी. जबकि बटलर ने 57 गेंदों में शतकीय पारी खेली थी.

  • रजत पाटीदार चौथे ऐसे अनकैप्ड क्रिकेटर हैं जिन्होंने आईपीएल में शतक बनाया है.

अब एक नजर रजत के जीवन की अहम बातों पर :

  • रजत का जन्म 1 जून 1993 को मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था.

  • आठ वर्ष की आयु में रजत पाटीदार क्रिकेट क्लब से जुड़ गए थे.

  • इसके बाद उनके दादाजी ने क्रिकेट को लेकर उन्हें प्रोत्साहित किया जिसकी वजह से रजत ने क्रिकेट एकेडमी ज्वॉइन की थी.

  • रजत दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और राइट-आर्म-ऑफ ब्रेक बॉलिंग करते हैं.

  • 2015-16 में रणजी ट्रॉफी से रजत ने अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी.

  • मध्य प्रदेश के लिए पहला जोनल टी-20 लीग मैच रजत ने 8 जनवरी 2018 को खेला था.

  • फर्स्ट क्लास करियर की बात करें तो रजत ने 39 मैचों की 67 पारियों में 2588 रन बनाए हैं जिसमें 196 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा है.

  • फर्स्ट क्लास में रजत ने 7 सेंचुरी जड़ी हैं. वहीं लिस्ट ए क्रिकेट में उन्होंने 3 शतक बनाए हैं.

  • लिस्ट ए क्रिकेट में रजत ने 43 मैचों में 42 परियां खेली हैं. जहां उनके बल्ले से 1397 रन निकले हैं. जिसमें से 158 रन उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा था.

  • टी-20 में रजत ने 38 मैच में 37 पारियां खेली हैं. जिसमें उन्होंने 1136 रन बनाए हैं. T20 में 112* उनकी अब तक की सर्वश्रेष्ठ पारी रही है.

  • पिछले आईपीएल में रजत पाटीदार ने 4 मैच खेले थे. जिसमें उन्होंने 31 रन के सर्वाधिक स्कोर के साथ कुल 71 रन बनाए थे.

0

9 मई होनी थी शादी, बुक था होटल लेकिन RCB से आया कॉल

रजत पाटीदार के पिता का नाम मनोहर पाटीदार है. रजत बिजनेसमैन फैमली से हैं, परिवार मध्यप्रदेश में रहता है. न्यू इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट में :-

मनोहर पाटीदार का कहना है कि "09 मई 2022 को रजत की शादी रतलाम की एक युवती से होनी थी और इसके लिए हमने इंदौर में एक होटल भी बुक कर लिया था. लेकिन आईपीएल में खेलने के लिए उसे आरसीबी से आए बुलावे के बाद शादी की तारीख आगे बढ़ा दी गई है."

आगे किस तारीख को शादी होगी इस बारे में मनोहर का कहना है कि 'परिवार रजत की शादी के लिए जुलाई के शुभ मुहूर्त देख रहा है, लेकिन बारिश के मौसम के कारण विवाह समारोह पहले के मुकाबले सीमित स्वरूप में आयोजित होना संभावित है.'

दरअसल फरवरी में हुए आईपीएल के मेगा ऑक्शन में रजत पाटीदार अनसोल्ड रहे थे. वहीं आईपीएल के दौरान देश में इस बीच कोई बाकी के क्रिकेट टूर्नामेंट शेड्यूल नहीं थे. ऐसे में रजत पाटीदार का परिवार मई में उनकी शादी करना चाहता था. लेकिन आरसीबी की ओर से कॉल आने बाद शादी टालनी पड़ी.

फिफ्टी की उम्मीद थी सेंचुरी की नहीं : मनोहर पाटीदार

रजत के पिता मनोहर का कहना है कि हमें उम्मीद थी कि रजत आईपीएल के एलिमिनेटर मुकाबले में फिफ्टी तो बना ही लेगा. लेकिन उसने सेंचुरी वह भी नाबाद पारी खेलकर लगाई. इससे उसने हमें आश्चर्यचकित कर दिया. हमें शतक की उम्मीद नहीं थी, लेकिन यह उसकी मेहनत है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

2021 में RCB के लिए 4 मैच खेल थे रजत इस बार किस्मत से हुई एंट्री

पिछले सीजन यानी IPL 2021 में रजत पाटीदार आरसीबी का हिस्सा थे और उन्होंने 4 मैच खेले थे. जिसमें उनके बल्ले से 71 रन निकले थे. उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 31 रनों का था. लेकिन इस सीजन के पहले RCB ने पाटीदार को रिलीज कर दिया था.

रजत पाटीदार को आरसीबी ने रिटेन नहीं किया था वहीं आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन में किसी भी टीम ने उन्हें नहीं खरीदा था. लेकिन लवनीथ सिसोदिया के चोटिल होने के बाद अप्रैल में रजत पाटीदार को RCB ने 20 लाख रुपये में टीम में शामिल किया. इस बार आरसीबी के लिए पाटीदार ने नंबर 3 पर आक्रामक क्रिकेट खेला है. बल्लेबाज ने आरसीबी के लिए इस बार उन्होंने 156.25 की स्ट्राइक रेट से 7 मैचों में 275 रन बनाए हैं.

रजत के परिवार वाले चाहते थे कि रजत पढ़-लिखकर डिग्री हासिल करें और परिवार का व्यापार देखे लेकिन रजत को क्रिकेट की दुनिया ने आकर्षित किया और चेतेश्वर पुजारा से प्रेरणा लेकर उन्होंने क्रिकेट में कदम रखने का फैसला लिया.

फास्ट बॉलिंग से स्पिनर बनने गए लेकिन बनकर निकले बैट्समैन 

रजत पाटीदार पहले तेज गेंदबात बनने का सपना देख रहे थे लेकिन बाद में स्पिन गेंदबाजी की तरफ गए और अंत में वे एक बैट्समैन बनकर निकले. 2014 में रजत के पैर में चोट लग गई थी जिसकी वजह से वे महीनों खेल से दूर रहे. सर्जरी होने के 18 महीने बाद मध्य प्रदेश टीम के लिए बतौर टॉप ऑर्डर बल्लेबाज रजत ने अपना रणजी डेब्यू किया और बड़ौदा के खिलाफ उस मैच की पहली पारी में पाटीदार ने 60 रन और दूसरी पारी में शतक जड़ दिया था.

रजत लगातार घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते रहे. पांच साल तक अपनी स्टेट टीम मध्यप्रदेश के लिए बेहतरीन क्रिकेट खेलने के बाद उन्हें सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2020-21 में लिया गया और बाद में IPL ट्रायल्स के लिए बुलाया गया तब KKR ने मुंबई में अपने कैम्प में रजत को बुलाया था. लेकिन ट्रायल्स के बाद उन्हें KKR की जगह RCB की टीम ने बेस प्राइज पर खरीद लिया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×