लॉकडाउन: शराब की दुकान खुलते ही सोशल मीडिया पर आई मीम्स की बाढ़

सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा #LiquorShops

Published04 May 2020, 02:56 PM IST
खुल्लम खुल्ला
2 min read

देशभर में 4 मई से कुछ चीजों की छूट का ऐलान कर दिया है. इसमें शराब की वो दुकानें भी हैं जो मॉल या किसी भीड़-भाड़ वाली जगह पर नहीं है. ऐसे में 4 मई अलसुबह से ही इन दुकानों पर बेतहाशा भीड़ देखने को मिल रही है. दिल्ली, मुंबई, आंध्र प्रदेश, यूपी हर जगह से कमोबेश यही तस्वीरें सामने आ रही हैं. अब जब सड़क पर ऐसा चल रहा है तो उसका असर तो सोशल मीडिया पर भी दिखेगा ही. #LiquorShops सुबह से ही ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है. यूजर्स इसको लेकर अलग-अलग तरह के रियक्शन दे रहे हैं. कुछ लोग जहां सरकार के इस फैसले के खिलाफ हैं, तो कुछ लॉकडाउन के मद्देनजर इसे गलत बता रहे हैं. वहीं, इसपर मीम्स भी जकर शेयर हो रहे हैं.

कुछ लोग इस मामले को लेकर बेहद संजीदा हैं. वो कहते हैं कि शराब की दुकानें खोले जाने से सोशल डिस्टेंसिंग के सारे नियम तारतार हो गए हैं, अब ऐसे में कोरोना के फैलने के चांस और ज्यादा हो गए हैं. कुछ लोग इस फैसले को लेकर सरकार पर सवाल भी उठा रहे हैं. लोगों का कहना है कि जरूरत के सामान की बजाय शराब की दुकानें खोल रही है, जो कि गलत है.

एक यूजर ने लिखा, “किताब की दुकानें बंद हैं और शराब की दुकानें खुलीं. सरकार शराब के लिए तैयार है लेकिन किताबों के लिए नहीं. क्यों?”

शराब की दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा दी गई. एक यूजर ने लिखा, “शराब की दुकानों के बाहक के विज्युअल देखकर परेशान हूं. सारी मेहनत न बेकार हो जाए.”

कई यूजर्स ने इसी तरह शराब की दुकानें खोलने के सरकार के फैसलों पर सवाल उठाया.

जमकर शेयर हो रहे मीम्स

वहीं, हर बार की तरह कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसके असर-उपाय से दूर सोशल मीडिया पर मीम्स और चुटकुल शेयर कर रहे हैं.

देशभर में आज कई इलाकों में शराब की दुकानों पर लंबी-लंबी कतारें देखने को मिलीं. स दौरान कई जगह पर तो सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ रही हैं. लोग बड़ी मात्रा में शराब की बोतलें स्टॉक करने के लिए खरीद रहे हैं. दिल्ली में एक शराब की दुकान के बाहर ऐसी होड़ मची कि लोग सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां उड़ाने लगे, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!