जया के ‘रेपिस्ट की लिंचिंग’ वाले बयान पर ट्विटर दो फाड़
जया बच्चन ने संसद में कही ‘बलात्कारियों को लिंच करने’ की बात
जया बच्चन ने संसद में कही ‘बलात्कारियों को लिंच करने’ की बात(फोटो: IANS, Twitter/Altered By Quint Hindi)

जया के ‘रेपिस्ट की लिंचिंग’ वाले बयान पर ट्विटर दो फाड़

हैदराबाद में डॉक्टर के गैंगरेप और मर्डर केस पर गुस्साई सांसद जया बच्चन ने संसद में कुछ ऐसा बोल दिया, जिसपर सोशल मीडिया बंट गया है. समाजवादी पार्टी से सासंद और एक्टर जया बच्चन ने 2 दिसंबर को संसद में कहा कि ऐसे लोगों (आरोपियों) को पब्लिक के सामने लाना चाहिए और उनकी लिंचिंग होनी चाहिए. ‘मुझे लगता है कि यह वो समय है, जब जनता चाहती है कि सरकार माकूल जवाब दे.’

Loading...
संसद के बाहर मीडिया से बात करते हुए जया बच्चन ने कहा था, ‘अगर आप सुरक्षा नहीं दे पाए हैं तो जजमेंट पब्लिक पर छोड़ दें. जो सुरक्षा देने में नाकाम रहे और जिन्होंने जुर्म को अंजाम दिया, उन्हें पब्लिक के सामने एक्सपोज करना चाहिए और लोगों को फैसला लेने दिया जाना चाहिए.’

‘सांसद को ऐसा नहीं बोलना चाहिए’

जया बच्चन के इस बयान पर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया आ रही है. कई यूजर्स ने उनके इस बयान को गलत बताते हुए कहा कि एक सांसद को ऐसा बोलना शोभा नहीं देता.

एक यूजर ने लिखा, ‘जया बच्चन सांसद हैं. एक लॉ-मेकर को कोर्ट के जज की तरह काम करना चाहिए, जिसे अपनी भावनाएं घर छोड़कर संविधान और कानून के तहत जजमेंट देना होता है. लिंचिंग को सपोर्ट करने की बात कहना गैर-जिम्मेदाराना है.’

एक यूजर ने लिखा, ‘हम सभी गुस्से में हैं और हम सबको बदलाव चाहिए. लेकिन एक सांसद का ये सुझाव देना कि आरोपियों को लिंच किया जाना चाहिए, ये गलत और गैर-जिम्मेदाराना है. ऐसे भाषण देने की बजाय कुछ काम करें.’

‘जया बच्चन ने अभी कहा कि ऐसे लोगों की लिंचिंग होनी चाहिए. नहीं. उनका ओपन कोर्ट में ट्रायल होना चाहिए, सबूत के साथ, दोषी पाए जाने पर कानून के तहत ही सजा होनी चाहिए, और सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए. एक महिला सासंद के तौर पर उन्हें ऐसे कड़े कानून का ड्राफ्ट बनाने में मदद करनी चाहिए.’
एक यूजर ने लिखा

एक यूजर ने लिखा कि जिन देशों में बलात्कारियों को पब्लिक के सामने सजा दी जाती है, उन्हीं देशों में महिला को बुर्का नहीं पहनने, अकेले जाने, मर्दों से मिलने, शादी से पहले सेक्स करने और गाने-नाचने के लिए भी सजा दी जाती है. ‘इसलिए सपोर्ट करने पहले सोचें.’

एक यूजर ने कहा, ‘एक लॉमेकर का राज्यसभा में लिंचमॉब हिंसा को सपोर्ट करना निराशजनक है.’

ये भी पढ़ें : हैदराबाद कांडः आरोपियों के परिजन बोले- उसे मार डालो,अब रिश्ता नहीं

जया बच्चन के सपोर्ट में मिमी चक्रवर्ती

जया बच्चन के ‘रेपिस्ट को लिंच करने’ के बयान की जहां खूब आलोचना हो रही है, वहीं ट्विटर पर एक तबका ऐसा भी है जो इसका समर्थन कर रहा है. आए दिन देश में होने वाली कई घटनाओं से गुस्साए कुछ लोगों ने ऐसी प्रतिक्रिया दी है.

टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने भी जया बच्चन की हां में हां मिलाई है. उन्होंने कहा, 'मैं उनसे सहमत हूं. मुझे नहीं लगता कि बलात्कारियों को पूरी सुरक्षा के साथ कोर्ट में ले जाना चाहिए और फिर न्याय का इंतजार करना चाहिए. तुरंत सदा होनी चाहिए.'

27 नवंबर की रात, हैदराबाद में एक सरकारी वेटेरनरी डॉक्टर का गैंगरेप कर उसका मर्डर कर दिया गया था. इसके बाद आरोपियों ने डॉक्टर के शव को आग के हवाले कर दिया. इस मामले में पुलिस ने 29 नवंबर को चार आरोपियों को गिरफ्तार किया. सभी आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

ये भी पढ़ें : ‘मैंने उसे मार डाला’-उस रात हैदराबाद रेप के आरोपी ने मां से कहा था

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our सोशलबाजी section for more stories.

    Loading...