ADVERTISEMENTREMOVE AD

नए साल में सुख, समृद्धि, शांति, स्थिरता और कामयाबी पाने के लिए अपनाए ये 9 संकल्प

क्या केवल साल बदल जाने से हमारे जीवन में बदलाव की बयार आती है?

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

तू नया है तो दिखा सुबह नई शाम नई

वर्ना इन आँखों ने देखे हैं नए साल कई

(फैज़ लुधयानवी)

हम सभी नए साल को अपने भविष्य के लिए, आने वाले समय के लिए शुभ मानते हैं और अपने जीवन को हर्ष और उल्लास से परिपूर्ण करने के लिए अपने ढंग से नए साल के स्वागत में जुट जाते हैं. पर क्या केवल साल बदल जाने से हमारे जीवन में बदलाव की बयार आती है? क्या दिन, महीने और साल बदलने से हम खुश रहने लग जाते हैं? क्या हमारी जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो पाता है? क्या कैलेंडर के बदलने से हम बदल जाते हैं? क्या हम नये वर्ष में कुछ नया कर पाते हैं?क्या हम अपने लक्ष्य को लेकर कृतसंकल्प हो पाते हैं? सिवाय घर के कैलेंडर बदलने के? सिवाय नव वर्ष के भव्य समारोह, उल्लास, जश्न, पार्टी, नाच गाने और गेट टुगेदर करने के?

New Year's Resolutions: हम सब नए साल की खुशियां मानते हैं और इस बात की आशा करते हैं कि आने वाला वर्ष हमारे लिए अनेकानेक खुशियां, कामयाबी, सफलता, अच्छा स्वास्थ्य और अच्छे परिणाम लेकर आए. नया साल एक नई शुरुआत को दर्शाता है हमें जीवन में निरंतर आगे बढ़ने की सीख और प्रेरणा प्रदान करता है. पुराने साल के अपने कर्म, सफलता, असफलता, सुख, दुःख , निराशा, आशा कठिनाई और अच्छे बुरे परिणाम जो हमारे जीवन का हिस्सा बना उन सब से प्रेरणा प्राप्त कर हमें नए जोश, नई उम्मीद और हौसले के साथ आगे बढ़ना चाहिए.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

जिस प्रकार हम पुराने साल के समापन पर दुःखी नहीं होते अपितु हम नये साल के जश्न और उसे बेहतर बनाने में तन मन धन से जुट जाते हैं उसी प्रकार हमें जीवन के बीते लम्हों, कठिनाइयों, असफलताओं और पराजय को पीछे छोड़ते हुए नए और खूबसूरत कल के निर्माण में जुट जाना चाहिए. सकारात्मक ऊर्जा के साथ सकारात्मक दिशा में किया जाने वाला हमारा प्रयास हमारे जीवन में सफलता अवश्य लेकर आएगी.

नए साल (New Year 2023) पर हमें एक नई ऊर्जा के साथ नया संकल्प (New Year's Resolutions) लेना चाहिए और हर संकल्प पर खरा उतरने हेतु दृढ़ निश्चय और इच्छा शक्ति के साथ सकारात्मक पहल भी करनी चाहिए और हर संकल्प को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित होते रहना चाहिए. हमें किसी भी परिस्थिति में अपने द्वारा लिए गए संकल्प को भूलना नहीं चाहिय अन्यथा उस पर हमारा कार्य शून्य हो जाता है. हम ऐसे ही कुछ संकल्प आपको बता रहे हैं जिसे पूरा कर आप अपने और अपनों के जीवन और दिनचर्या में बदलाव ला सकते हैं जिससे आपके जीवन में सुख, समृद्धि, शांति, स्थिरता और कामयाबी अवश्य आएगी.

समय का सही दिशा में समुचित उपयोग - समय का सही, समुचित और सही दिशा में सकारात्मक उपयोग किसी व्यक्ति की सफलता और असफलता का सूत्रपात होता है. समय बहुत बलवान है यह हम सब जानते हैं अपितु हम उसे अत्यंत हल्के में लेते हैं. हम समय के महत्व को नहीं समझते और अपने जीवन के महत्वपूर्ण समय को ऐसे ही फालतू के कामों में व्यर्थ करते हैं. समय का सदुपयोग किसी भी बड़े से बड़े लक्ष्य को प्राप्त करने में मददगार सिद्ध होता है अतः हमें जीवन के हर पल और हर लम्हे का सही उपयोग करना चाहिए.

ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा - हम बचपन से ईमानदारी का पाठ पढ़ते हैं और इसी पाठ के साथ बड़े हो जाते हैं परंतु समय के साथ साथ हम स्वंय इस पाठ को भूल जाते हैं. ईमानदारी और और अपने कर्तव्य के प्रति हमें निष्ठावान होना चाहिए. ईमानदारी से किए गए कार्य का फल सदैव अच्छा एवं भाने वाला होता है साथ ही हमें अपने कर्तव्य के प्रति भी उत्तरदाई एवं जिम्मेदार बने रहना चाहिए. दोनों ही जीवन के किसी लक्ष्य को भेदने में सहायक सिद्ध होगी.

लक्ष्य के साथ आगे बढ़ें - हर व्यक्ति का जीवन लक्ष्य पर आधारित होना चाहिए, बिना लक्ष्य के हमारा जीवन व्यर्थ है. छात्र - छात्राएं हों, नौकरी पेशे वाले हों, किसान हों, दैनिक वेतन भोगी हों अथवा व्यापारी हों, हर किसी को एक निश्चित लक्ष्य के साथ आगे बढ़ना चाहिए.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

कठिन परिश्रम - कठिन परिश्रम हर मुश्किल से मुश्किल लक्ष्य को आसान और सरल बना देता है. कड़ी मेहनत का कोई मोल नहीं, इंसान सफलता चाहता है परन्तु परिश्रम से भागता है. कड़ी मेहनत ही सफलता की कुंजी है.

नकारात्मकता से दूर रहें :- आज के अत्यंत उलझा देने वाली बिजी दैनिक जीवन में हर व्यक्ति नकारात्मक भाव लिए जीवन जी रहा है. सभी अपने अपने क्षेत्र में एक दूसरे से जल्दी आगे निकलने की इच्छा लिए काम कर रहे हैं और वो अपने घर- परिवार, रिश्ते- नाते, दोस्त-यार,मां - बाप, अच्छा मकान, अच्छी गाड़ी, एक दूसरे से अच्छा खाना, पहनना और दिखना और अन्य सभी प्रकार के सुख सुविधाएँ प्राप्त करने की होड़ में जीवन के मूल उद्देश्य भूल जाते हैं और नकारात्मकता उनके घर कर जाती जो नित बढ़ती जाती है और हम कई प्रकार के समस्याओं में घिरते चले जाते हैं. अतः अपने आप को हमेशा सकारात्मक रखें एवं नकारात्मक प्रभाव को अपने पास भी ना आने दें.

अध्ययन को आदत बनायें :-इंसान को हमेशा पढ़ते रहना चाहिए. किताबों एवं पत्र - पत्रिकाओं से दोस्ती इंसान को मानसिक रूप से स्वस्थ तो रखती ही है साथ ही नित नई जानकारी भी मिलती रहती है. पढ़ने की आदत हमारे अंदर की रचनात्मकता को निखारने में सहयोगी होती है और व्यक्तित्व के विकास में भी सहायक होती है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

अनुशासन अपनाएं : अनुशासन जीवन का महत्तवपूर्ण अंग है. जीवन के हर कार्य में, हर क्षेत्र में हमें अनुशासनात्मक बने रहना चाहिए. यह हमारे चरित्र निर्माण एवं व्यक्तित्व निखार में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है.

सोशल मीडिया का सही उपयोग :-मौजूदा दौर इन्टरनेट और मीडिया का दौर है. इसका अधिक एवं गलत उपयोग ना केवल नुकसानदायक ब्लकि विनाशकारी भी सिद्ध हो सकता है. इसका अधिक इस्तेमाल ना सिर्फ समय बर्बाद करता है ब्लकि तनाव, अनिद्रा, आलस्य, जैसी अनेक प्रकार की शारीरिक एवं मानसिक बिगाड़ का कारण बनता है. अतः सोशल नेटवर्किंग साइटों का सही एवं नपा तुला उपयोग करना चाहिए.

अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें :- स्वास्थ्य ही धन है, स्वास्थ्य ही जीवन है जैसा आम कहावत आप ज़रूर सुने होंगे. अच्छा स्वास्थ्य हमारा असल धन है. अच्छी सेहत हमें जीवन में सभी तरह के लक्ष्य में सहायक होती है अतः हमें अपने सेहत का खूब अच्छे से ख्याल रखना चाहिए. हमारा शरीर स्वस्थ होगा तो हमारा मन भी स्वस्थ रहेगा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हम आशा करते हैं कि आप नए साल के नए अवसर पर आप अपने जीवन के पहियों को सुचारू रूप से चलाने के लिए उपरोक्त संकल्प एवं अन्य उपयुक्त संकल्प को आत्मसात करेंगे जो आपको उर्जावान बनाए रखने में मदद करेगी और आपके जीवन में सफलता एवं खुशियां लेकर आयेंगी.

तू नया है तो दिखा सुबह नई शाम नई

वर्ना इन आँखों ने देखे हैं नए साल कई

(फैज़ लुधयानवी)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×