ADVERTISEMENTREMOVE AD

Constitution Day 2021: संविधान दिवस, पढ़ें डॉ भीमराव अंबेडकर के 10 अनमोल वचन

Constitution Day of India: देश के संविधान निर्माण में डॉ. भीमराव अम्बेडकर का सबसे प्रमुख रोल था.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

Constitution Day of India: संविधान दिवस हर साल 26 नवंबर के दिन मनाया जाता है. 1949 में आज ही के दिन भारत की संविधान सभा ने औपचारिक रूप से भारत के संविधान को अपनाया जो 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ. सरकार ने 19 नवंबर, 2015 को राजपत्र अधिसूचना की सहायता से 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में घोषित किया था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

संविधान में लिखा है कि भारत का कोई आधिकारिक धर्म नहीं होगा. यह ना तो किसी धर्म को बढ़ावा देता है और ना ही किसी से भेदभाव करता है. हाथों से लिखे गए संविधान पर 24 जनवरी 1950 को हस्ताक्षर किए गए थे. इस पर 284 सांसदों ने हस्ताक्षर किए थे, जिनमें 15 महिला सांसद थीं. इसके बाद 26 जनवरी से ये संविधान पूरे देश में लागू हो गया.

हमारे देश के संविधान के निर्माण में डॉ. भीमराव अम्बेडकर का सबसे प्रमुख रोल था, इसलिए संविधाव दिवस उन्हें श्रद्धाजंलि देने के प्रतीक के रूप में भी मनाया जाता है. आज संविधान दिवस के अवसर पर हम आपके लिए बाबा साहेब अम्बेडकर के कुछ बेहतरीन कोट्स मैसेज लेकर आए है जिन्हें आप अपनों के बीच शेयर कर सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

10 Best Motivational Quotes by Dr B R Ambedkar in Hindi

  • “शिक्षित बनो, संगठित रहो, संघर्ष करो”

  • “मैं एक समुदाय की प्रगति को उस प्रगति की डिग्री से मापता हूं जो महिलाओं ने हासिल की है”

  • “यदि हम आधुनिक विकसित भारत चाहते हैं तो सभी धर्मों को एक होना पड़ेगा”

  • “जीवन लम्बा होने की बजाये महान होना चाहिए”

  • “किसी भी कौम का विकास उस कौम की महिलाओं के विकास से मापा जाता हैं”

ADVERTISEMENTREMOVE AD
  • “मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता, समानता, और भाई-चारा सीखाये”

  • “एक महान आदमी एक प्रतिष्ठित आदमी से इस तरह से अलग होता है कि वह समाज का नौकर बनने को तैयार रहता है”

  • “बुद्धि का विकास मानव के अस्तित्व का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए”

  • “एक सुरक्षित सेना एक सुरक्षित सीमा से बेहतर है”

  • “मेरे नाम की जय-जयकार करने से अच्‍छा है, मेरे बताए हुए रास्‍ते पर चलें”

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×