Me, The Change : जब तापसी पन्‍नू को रेसलर दिव्या ने कंधे पर उठाया

‘मी, द चेंज’, एक ऐसा कैंपेन जो पूरे भारत में पहली बार वोट देने वाली महिला मतदाताओं के मुद्दों पर चर्चा कर रहा है.

Updated24 Jan 2019, 04:37 PM IST
Me, The Change
2 min read

आज भले ही हम उन्हें एक एक्टर के तौर पर जानते हैं, लेकिन तापसी पन्नू ने अपने करियर की शुरुआत बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर की थी. वो अपने आप को एक 'नर्डी गर्ल' बताती हैं, जिसे मैथ्स और फिजिक्स पढ़ना काफी पसंद है.

ये काफी लोगों के लिए हैरान करने वाला है, लेकिन तापसी को इनफोसिस कंपनी से भी ऑफर मिला था. लेकिन क्योंकि उन्हें कभी 9 से 5 की नौकरी नहीं करनी थी, तो उन्होंने तेलुगू और तमिल फिल्मों के ऑफर लेने शुरू कर दिए.

आज तापसी कोपिंक, मुल्क और हाल ही में रिलीज अनुराग कश्यप की मनमर्जियां जैसी बेहतरीन फिल्मों के लिए जाना जाता है.

गुरुवार, 17 जनवरी को फेसबुक इंडिया और द क्विंट के 'Me, The Change' इवेंट में तापसी ने देश की उन 10 युवा, कामयाब महिलाओं को सम्मानित किया जो कुछ अलग कर रही हैं. तापसी ने उनकी कहानियां सुनते हुए अपना अनुभव भी उन सभी के साथ शेयर किया.

“हार मानना कोई विकल्प नहीं”

द क्विंट के फाउंडर राघव बहल से बात करते हुए तापसी ने कहा, "मनमर्जियां में अपनी सेक्सुएलिटी को लेकर कॉन्फिडेंट और बिंदास लड़की का कैरेक्टर प्ले करने के बाद मुझे फैंस के मेल आए, जिसे देखकर मुझे काफी खुशी हुई. महिलाओं को क्यों सोचना चाहिए कि दूसरे क्या सोचते हैं?"

तापसी ने आगे कहा, “महिलाएं हर तरह से खूबसूरत होती हैं. आप एक रेसलर हो सकते हैं, एक डांसर हो सकते हैं. आप जन्म से ही ग्रेसफुल हैं. अपने बारे में आपको ये कभी नहीं बदलना चाहिए.”

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में बाहरी होने पर तापसी ने कई मुश्किलों का सामना किया, लेकिन अपने जुनून को छोड़कर वापस जाना कभी उनका ऑप्शन नहीं था.

तापसी ने कहा, "सभी की अपनी मुश्किलें होती हैं. किसी को दूसरों से अपनी परेशानियों की तुलना नहीं करनी चाहिए. इसे एक रोड ब्लॉक की बजाय, स्पीड ब्रेकर की तरह देखें. मुश्किलों से डर कर काम को छोड़ देना ऑप्शन नहीं है."

तापसी ने रिजेक्शन को ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया और सकारात्मक तरीके से उसे लिया. वो तब तक कोशिश करती रहीं, जब तक अपने लक्ष्य तक नहीं पहुंची. जब किसी ने उन्हें कहा कि वो मॉडल नहीं बन सकतीं, तो उन्होंने तय किया कि एक दिन वो शो स्टॉपर बनेंगी.

'Me, The Change' इवेंट में तापसी ने चंडीगढ़ की जहान गीत सिंह के साथ ढोल भी बजाया. ‘दंगल क्वीन’ दिव्या काकरान ने स्टेज पर तापसी को कंधे पर उठाकर रेसलिंग की कुछ बारीकियां बताईं. इस दौरान दिव्या और ‘डेफ मॉडल’ देशना जैन ने उन्हें साइन लैंग्वेज के जरिये भावनाओं को जाहिर करने का तरीका सिखाया. ये लड़कियां उन अचीवर्स में से हैं जिनकी कहानियों को द क्विंट ने अपने मी, द चेंज कैंपेन के तहत पेश किया है.

क्विंट और फेसबुक ने मी, द चेंज लॉन्च किया है, एक ऐसा कैंपेन जो पूरे भारत में पहली बार वोट देने वाली महिला मतदाताओं के मुद्दों पर चर्चा कर रहा है.

तापसी ने सभी महिलाओं से वोट करने की गुजारिश की. उन्होंने जोर देते हुए कहा क ये एक अधिकार है और सभी को वोट देना चाहिए.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 24 Jan 2019, 04:20 PM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!