ADVERTISEMENT

11 साल का बच्चा घर में क्वॉरंटीन, क्या-क्या मुश्किलें?

बच्चे को घर में माता-पिता से अलग एक कमरे में आइसोलेट रखना काफी मुश्किलों भरा होता है

Updated

वीडियो प्रोड्यूसर: माज़ हसन

वीडियो एडिटर: मोहम्मद इरशाद आलम

हमारा बेटा स्वभाव से बहुत ही मिलनसार है, कभी अकेले नहीं रहना चाहता है. इसलिए, जब उसकी कोविड टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो हमें चिंता थी कि वो कैसे क्वॉरंटीन में रहेगा. हम जानते थे कि उसे क्वॉरंटीन रखना मुश्किल होगा, लेकिन हमने कभी नहीं सोचा था कि ये इतना तकलीफदेह होगा!

ADVERTISEMENT

हम खुद बीमारी से नहीं घबराए क्योंकि हम समझ गए थे कि एक बच्चे के लिए, कोविड आमतौर पर जानलेवा नहीं होता है. उसके डॉक्टर ने हमें उनके टेंपरेचर और ऑक्सीजन सैचुरेशन की निगरानी करने और उसे अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखने का निर्देश दिया था. उसने भाप लेने का भी सुझाव दिया. यह काफी आसान लग रहा था.

हमारे बेटे ने अपने कंप्यूटर, फोन, किताबों, खिलौनों और फिल्मों के साथ खुद को अपने कमरे में बंद कर लिया. उसके पास हमारा कुत्ता और बिल्ली का बच्चा भी था. एक दिन तो सब ठीक चला. फिर उसके रोने और नखरे के साथ मुश्किलें शुरू हुई. वो अपने कमरे में अकेले रहना बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था.

हम बहुत खुशकिस्मत थे कि संक्रमण के गंभीर रूप का सामना नहीं करना पड़ा. हमें दवा या ऑक्सीजन या अस्पताल के बेड की जरूरत नहीं पड़ी. दोस्तों और परिजनों के मैसेज, फोन कॉल और घर के बने खाने के पार्सल के साथ लोगों ने हमारी मदद की. हमारा संघर्ष सिर्फ खुद से रहा.

(सभी 'माई रिपोर्ट' ब्रांडेड स्टोरिज सिटिजन रिपोर्टर द्वारा की जाती है जिसे क्विंट प्रस्तुत करता है. हालांकि, क्विंट प्रकाशन से पहले सभी पक्षों के दावों / आरोपों की जांच करता है. रिपोर्ट और ऊपर व्यक्त विचार सिटिजन रिपोर्टर के निजी विचार हैं. इसमें क्‍व‍िंट की सहमति होना जरूरी नहीं है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT