ADVERTISEMENT

दिल्ली में कोविड संकट के बीच एक अच्छी खबर

गुरु तेग बहादुर अस्पताल के पास एक और 500 बिस्तर की सुविधा स्थापित की जाएगी

Published

शुक्रवार, 30 अप्रैल की शाम, डबल मास्क पहने, मैं गुरु तेग बहादुर अस्पताल के पास निर्माणाधीन आईसीयू बेड-फैसिलिटी के पास से गुजरा. ये वो सुविधा है जो दिल्ली सरकार ने अपने नागरिकों को देने का वादा किया है. COVID-19 की दूसरी लहर से निपटने और बेड और ऑक्सीजन की कमी के दबाव के कारण, अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार 10 मई तक राजधानी में 1,200 ICU बेड लगाने की कोशिश में है.

ADVERTISEMENT

लोक नायक अस्पताल के सामने रामलीला मैदान मैदान में 500-आईसीयू स्थापित किया जाएगा, जबकि गुरु तेग बहादुर अस्पताल के पास एक और 500 बिस्तर की सुविधा स्थापित की जाएगी. बाकी 200 आईसीयू बेड दिल्ली के छतरपुर इलाके में राधा स्वामी सत्संग ब्यास में स्थापित होंगे.

जीटीबी अस्पताल के पास जमीन पर निर्माण पूरे जोरों पर है, ऐसी उम्मीद है कि जीटीबी अस्पताल के डॉक्टर ही मरीजों की जांच करेंगे. मरीजों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए दो परिसर होंगे.

(सभी 'माई रिपोर्ट' ब्रांडेड स्टोरिज सिटिजन रिपोर्टर द्वारा की जाती है जिसे क्विंट प्रस्तुत करता है. हालांकि, क्विंट प्रकाशन से पहले सभी पक्षों के दावों / आरोपों की जांच करता है. रिपोर्ट और ऊपर व्यक्त विचार सिटिजन रिपोर्टर के निजी विचार हैं. इसमें क्‍व‍िंट की सहमति होना जरूरी नहीं है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT