ADVERTISEMENT

यूपी चुनाव से पहले गाजियाबाद में घरों के दरवाजों पर पोस्टर-काम नहीं तो वोट नहीं

गाजियाबाद का इंद्रापुरी बना तालाब, लोगों का टूटा सब्र का बांध

Published
ADVERTISEMENT

गाजियाबाद (Ghaziabad, UP) के इंद्रापुरी इलाके में बारिश में पानी भरने से जीवन बाधित हो जाता है, यात्री परेशान रहते हैं, पूरे इलाके की जिंदगी थम सी जाती है

कॉलोनी की 'गंदगी और बदबू' की स्थिति पर एक स्थानीय निवासी ने वीडियो के माध्यम से बताया कि जलनिकासी न होने की वजह से नाली का सारा पानी और गोबर सड़क पर भरे पड़े हैं. बारिश का पानी आस-पास की कॉलोनियों से इंद्रापुरी में बहकर आ जाता है. जिससे सड़कें डूब जाती हैं और जाम की स्थिति बन जाती है. सड़क का सारा पानी शहीद भगत सिंह पार्क में भर जाता है जिससे पूरा पार्क पानी से लबालब हो जाता है.

निवासियों का कहना है कि तमाम शिकायतों के बावजूद नगर निगम नियमित रूप से नालों की सफाई नहीं करता है. जिससे पूरा इलाका स्विमिंग पूल में बदल जाता है.

ADVERTISEMENT

इसके विरोध में कॉलोनीवासी अपने घरों के सामने पोस्टर लगाए हुए हैं, जिसमें लिखा हुआ है-

'इंद्रापुरी में काम नहीं तो वोट नहीं, जलभराव की समस्या का निदान न होने से हम अब पलायन को मजबूर'

नगर निगम ने कॉलोनी के निवासियों से कहा कि नालों की सफाई और पानी के बहाव के लिए रास्ता बनाया जाएगा लेकिन नगर पालिका लोनी ने न तो अभी तक क्विंट के सवालों का जवाब दिया है, न ही नालों की सफाई करवाई है.

(सभी 'माई रिपोर्ट' ब्रांडेड स्टोरिज सिटिजन रिपोर्टर द्वारा की जाती है, जिसे क्विंट पेश करता है. हालांकि, क्विंट प्रकाशन से पहले सभी पक्षों के दावों / आरोपों की जांच करता है. रिपोर्ट और ऊपर व्यक्त विचार सिटिजन रिपोर्टर के निजी विचार हैं. इसमें क्‍व‍िंट की सहमति होना जरूरी नहीं है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×