ADVERTISEMENTREMOVE AD

Adipurush की स्क्रीनिंग पर नेपाल ने लगाया प्रतिबंध, निर्माताओं ने काठमांडू के मेयर को लिखा पत्र

आदिपुरुष फिल्म के निर्माताओं ने नेपाल के सिनेमाघरों में फिल्म के स्क्रीनिंग पर प्रतिबंध लगाने पर चिंता व्यक्त की है.

Published
न्यूज
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female
ADVERTISEMENTREMOVE AD

आदिपुरुष के निर्माताओं ने काठमांडू के मेयर बालेन शाह को पत्र लिखकर नेपाल की राजधानी के सिनेमाघरों में हिंदू महाकाव्य रामायण पर आधारित विवादास्पद फिल्म के स्क्रीनिंग पर प्रतिबंध लगाने पर चिंता व्यक्त की है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बता दें, फिल्म ने अपने कथानक और डायलॉग्स को लेकर नेपाल और भारत में विवाद छेड़ दिया है. 15 जून को मेयर ने चेतावनी दी कि अगर ओम राउत द्वारा लिखित और निर्देशित और टी-सीरीज और रेट्रोफाइल्स द्वारा निर्मित फिल्म ने सीता के जन्मस्थान के बारे में गलती को ठीक नहीं किया तो काठमांडू में किसी भी भारतीय फिल्म को अनुमति नहीं दी जाएगी.

वहीं, बालेन शाह को लिखे अपने पत्र में टी-सीरीज की ओर से रविवार को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि

"अगर हमने किसी भी तरह से नेपाल के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है तो हम माफी मांगना चाहते हैं.. यह कभी भी जानबूझकर किसी को ठेस पहुंचाने के लिए नहीं था. भारतीय होने के नाते दुनिया भर में महिलाओं का सम्मान हमारे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है."

पत्र में आगे कहा गया है कि "हम आपसे अनुरोध करते हैं कि फिल्म को उसके कलात्मक रूप में देखें और हमारे दर्शकों तक फिल्म की पहुंच को सुनिश्चित करें."

मेयर की चेतावनी के एक दिन बाद, काठमांडू के सभी सिनेमाघरों ने सुरक्षा कारणों से आदिपुरुष की स्क्रीनिंग बंद कर दी. मेयर ने रविवार को फिल्म के खिलाफ विरोध का आह्वान किया और सिनेमा हॉल से फिल्म को प्रदर्शित नहीं करने का आग्रह किया, जब तक कि फिल्म निर्माता कथित गलती को ठीक नहीं करते.

नेपाल के सेंसर बोर्ड ने भी फिल्म की अनुमति वापस लेने का फैसला किया है.

रामायण के अनुसार, सीता का जन्म नेपाल के जनकपुर में हुआ था और भगवान राम ने आकर उनसे विवाह किया था.

मेयर के अलावा, विभिन्न राजनीतिक दलों के कुछ सहयोगी संगठनों ने भी फिल्म का विरोध किया है और चेतावनी दी है कि जब तक फिल्म निर्माता गलतियों को सुधार नहीं लेते, तब तक स्क्रीनिंग की अनुमति नहीं दी जाएगी.

इनपुटः IANS

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें