ADVERTISEMENTREMOVE AD

करणी सेना चीफ की हत्या: जिम्मेदारी लेने वाला गोदारा कौन? लिखा- दुश्मन अर्थी तैयार रखें

Rohit Godara ने लिखा, "सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है, इसकी सम्पूर्ण जिम्मेवारी हम लेते हैं, यह हत्या हमने करवाई है."

Updated
छोटा
मध्यम
बड़ा

राजस्थान (Rajasthan) के जयपुर (Jaipur) में  श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना (Karni Sena) के प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) की हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा नाम के गैंगस्टर ने ली है.

राज्य के डीजीपी उमेश मिश्रा ने बताया कि रोहित गोदारा को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के लिए तलाशी अभियान चलाए जा रहे हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

डीजीपी उमेश मिश्रा ने कहा कि, "तीन लोग बातचीत के बहाने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी से मिलने आए, कुछ देर की बातचीत के बाद ही उन्होंने सुखदेव पर गोलियां चला दीं, जिसमें उनकी और एक आरोपी की मौके पर मौत हो गई है. इसके बाद दोनों आरोपी मौके से फरार हो गए."

"सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा ने ली है, जिसे जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. पुलिस अधिकारी इसके लिए तलाशी अभियान चला रहे हैं. बदमाशों के संभावित ठिकानों पर पुलिस दबिश दे रही है, बिकानेर संभाग और पड़ोसी जिलों में तलाशी अभियान जारी है, साथ ही हरियाणा पुलिस से सहयोग मांगा गया है."
डीजीपी उमेश मिश्रा

रोहित गोदारा ने ली हत्या की जिम्मेदारी

रोहित गोदारा ने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा कि, "सभी भाइयों को राम राम, मैं रोहित गोदारा कपूरसरी, गोल्डी बराड़. भाइयों आज यह जो सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है, इसकी सम्पूर्ण जिम्मेवारी हम लेते हैं, यह हत्या हमने करवाई है. मैं आपको बताना चाहता हूं कि ये हमारे दुश्मनों से मिलकर उनका सहयोग करता था, उनको पूर्ण रूप से मजबूत करने का काम करता था और रही बात हमारे दुश्मनों की तो वह अपने घर की चौखट पर अपनी अर्थी तैयार रखें."

0

कौन हैं मुख्य आरोपी रोहित गोदारा?

रोहित गोदारा गैंगस्टर है जिसका लॉरेंस बिश्नोई गैंग से संबंध है. यह बीकानेर के लूणकरण का रहने वाला है जिसपर 32 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. जब सीकर में गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या हुई थी तब भी रोहित ने ही उस हत्या की जिम्मेदारी ली थी.

सिद्धू मुसेवाला हत्याकांड से भी कनेक्शन

रोहित का सिद्धू मुसेवाला हत्याकांड से भी संबंध है. कुछ रिपोर्टों के अनुसार, कहा जाता है कि उसने हत्या में इस्तेमाल किए गए वाहन की व्यवस्था राजस्थान से की थी. जानकारी के मुताबिक वह 13 जून 2022 को पवन कुमार के फर्जी नाम और पासपोर्ट पर दुबई भाग गया था. रेहित के खिलाफ इंटरपोल ने भी पहले से रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर रखा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×