ADVERTISEMENT

Udaipur Murder:जांच के लिए SIT गठित, गहलोत ने जताई अंतरराष्ट्रीय साजिश की आशंका

Udaipur Murder case: उदयपुर हत्याकांड को लेकर बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने सीएम गहलोत पर निशाना साधा है.

Published
Udaipur Murder:जांच के लिए SIT गठित, गहलोत ने जताई अंतरराष्ट्रीय साजिश की आशंका
i

उदयपुर हत्याकांड (Udaipur Murder Case) ने राजस्थान (Rajasthan) सहित पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. मामले में गहलोत सरकार ने SIT का गठन किया है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री गहलोत (Ashok Gehlot) ने अंतरराष्ट्रीय साजिश की आशंका भी जताई है. वहीं आपको बता दें कि हत्याकांड के बाद मंगलवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों को राजसमंद के भीम से गिरफ्तार कर लिया है. राजस्थान में इंटरनेट बंद है. इसके साथ ही एक महीने के लिए पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू की गई है.

ADVERTISEMENT

सीएम गहलोत ने जताई अंतरराष्ट्रीय साजिश की आशंका

उदयपुर हत्याकांड को लेकर सूबे के मुखिया अशोक गहलोत ने अतंरराष्ट्रीय साजिश की भी आशंका जताई है. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि, "ये जघन्य घटना है. हमनें सीधे SIT गठित की है. SIT ने अपना काम शुरू कर दिया है. जिसने इस घटना को अंजाम दिया है उनके क्या प्लान थे. क्या षड्यंत्र था. उनका राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संगठन से लिंक तो नहीं है."

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि,

"ये कोई मामूली घटना नहीं है. इसको हम गंभीरता से ले रहे हैं. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रेडिकल एलिमेंट से लिंक के बिना ऐसी घटना होती ही नहीं है."
अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान

कटारिया ने सरकार पर साधा निशाना

उदयपुर हत्याकांड को लेकर बीजेपी नेता गुलाबचंद कटारिया ने सीएम गहलोत पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, "ये घटना राजस्थान पुलिस और मुख्यमंत्री की अकर्मण्यता का नतीजा है."

इसके साथ ही मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि मृतक को सुरक्षा देनी चाहिए थी. निश्चित रूप से प्रशासनिक चूक हुई है जिसके कारण ये घटना हुई है.

मुस्लिम संगठनों ने की  हत्याकांड की निंदा

मुस्लिम संगठनों ने इस मामले की निंदा करते हुए कहा है कि हत्या को कभी भी जायज नहीं ठहराया जा सकता. मुशावरत के अध्यक्ष नावेद हामिद ने कहा, "उदयपुर में हत्या का मामला इस्लाम विरोधी और घृणा अपराध का मामला है. पैगंबर मोहम्मद ने अपने पूरे जीवन में कभी किसी शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाया था. पैगंबर के प्यार के आड़ में कुछ अपराधी ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. कानून के मुताबिक इन्हें सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए.

जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने भी इस घटना की निंदा की. जमीयत के महासचिव हकीमुद्दीन कासमी ने एक बयान में कहा, "कानून की नजर में यह अपराध है, और हमारा धर्म इसकी अनुमति नहीं देता है."

उदयपुर में काबू में हालात

हत्याकांड के बाद उदयपुर में हालात काबू में हैं. पूरा शहर छाबनी में तब्दील हो गया है. चौक-चौराहों पर भारी सुरक्षाबल तैनात की गई है. राजस्थान ACB के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक दिनेश एम. एन. ने कहा कि, "आरोपियों से पूछताछ जारी है. संवेदनशील और धार्मिक जगहों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जा रही है."

वहीं उदयपुर SP मनोज कुमार ने कहा कि, "कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में है. हत्या के बाद कोई घटना नहीं हुई है और स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है."

उदयपुर में क्या हुआ?

उदयपुर में मंगलवार, 28 जून को कथित तौर पर नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले एक शख्स का मर्डर कर दिया गया. हत्या के बाद दोनों आरोपियों ने वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी ली थी. हत्यकांड की होती आलोचनाओं के बीच दोनों आरोपियों को राजसमंद के भीम से गिरफ्तार कर लिया गया. आरोपियों के नाम गोस मोहम्मद पुत्र रफीक मोहम्मद और रियाज पुत्र अब्दुल जब्बार है. दोनों उदयपुर के सूरजपोल क्षेत्र के निवासी हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Speaking truth to power requires allies like you.
Q-इनसाइडर बनें
450

500 10% off

1500

1800 16% off

4000

5000 20% off

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
Check Insider Benefits
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×