ADVERTISEMENTREMOVE AD

भारतीय अरबपति हरपाल रंधावा कौन? जिम्बाब्वे विमान दुर्घटना में बेटे समेत मौत

Harpal Randhawa रियोजिम कंपनी के मालिक थे.

Published
न्यूज
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

भारतीय अरबपति और खनन व्यवसायी हरपाल रंधावा और उनके 22 वर्षीय बेटे आमेर की 29 सितंबर को जिम्बाब्वे में एक विमान दुर्घटना (Plane Crash) में मौत हो गई. इनके अलावा अन्य चार लोगों की भी दुर्घटना में मौत हो गई.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

कैसे हुई दुर्घटना?

PTI के अनुसार, घटना तब घटी जब उनका निजी विमान तकनीकी खराबी के कारण दक्षिण-पश्चिमी जिम्बाब्वे में एक हीरे की खदान के पास से गुजर रहा था, उसी वक्त दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

खनन व्यवसायी और उनके बेटा रियोजिम निजी सेसना 206 विमान में यात्रा कर रहे थे. जब दुर्घटना हुई तब वे हरारे से मुरोवा हीरा खदान की ओर जा रहे थे.

एकल इंजन वाला विमान मुरोवा डायमंड्स खदान के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसका आंशिक स्वामित्व रियोजिम के पास था. दुर्घटना में जहाज पर सवार सभी यात्रियों और चालक दल की मृत्यु हो गई.

द हेराल्ड के अनुसार, पुलिस ने कहा कि पीड़ितों में दो जिम्बाब्वेवासी और चार विदेशी शामिल हैं. जिम्बाब्वे गणराज्य पुलिस ने एक विमान दुर्घटना की रिपोर्ट दी है जो 29 सितंबर को सुबह 7.30 से 8 बजे के बीच हुई, जिसमें छह लोगों की मौत की पुष्टि हुई है.

"मुरोवा डायमंड कंपनी (रियोजिम) के स्वामित्व वाला सफेद और लाल जकैम विमान सुबह 6 बजे हरारे से खदान के लिए रवाना हुआ था और माशावा से लगभग 6 किमी दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गया."

कौन थे हरपाल रंधावा?

  • रंधावा जिम्बाब्वे की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी रियोजिम के मालिक थे, जो सोना, कोयला, टोल रिफाइन निकल और तांबा का उत्पादन करती है.

  • रंधावा के लिंक्डइन प्रोफाइल के अनुसार, वह जुलाई 1993 में उनके द्वारा स्थापित GEM होल्डिंग्स के अध्यक्ष थे. GEM होल्डिंग्स, एक निजी इक्विटी फर्म है जो अब 4 बिलियन डॉलर की है.

  • एलिमेंट्स प्लेटफॉर्म्स प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन अजय बग्गा के अनुसार, हरपाल भारत में एक और वेंचर का प्लान कर रहे थे.

  • आमेर रंधावा एक प्रशिक्षित पायलट थे और फ्लाइट में एक यात्री के रूप में यात्रा कर रहे थे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×