ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर

इस ग्राफिक नॉवेल के जरिए हम आपको बता रहे हैं, बिग बी की जिंदगी के कुछ अनसुने किस्से.

जिंदगानी
2 min read
इलस्ट्रेशन के जरिए देखिए अमिताभ बच्चन का अब तक का सफर
i

(अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर क्विंट के आर्काइव से इस खबर को दोबारा पब्लिश किया जा रहा है.)

दुनिया उन्हें 'महानायक' के नाम से जानती है, नाम है अमिताभ बच्चन. बॉलीवुड में 50 साल पूरे कर चुके ‘शहंशाह’ का आज जन्मदिन है. इस खास मौके पर, ग्राफिक नॉवेल के जरिए हम आपको बता रहे हैं उनकी जिंदगी के कुछ अनसुने किस्से... कैसे 'इंकलाब' से उनका नाम अमिताभ पड़ा? उन्हें पहला अवॉर्ड कब मिला था? 'काला पत्थर' में उनके गुस्से के पीछे की कहानी क्या है?

क्विंट हिंदी आपके लिए अमिताभ के ब्लॉग से खास कहानियां लेकर आया है...

ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)
ग्राफिक नॉवेल | ‘इंकलाब’ से अमिताभ तक, ‘शहंशाह’ का पूरा सफर
(इलस्ट्रेशन: आर्णिका काला/क्विंट हिंदी)

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!