ADVERTISEMENTREMOVE AD

बिहार: जमुई में रेत माफिया ने सब-इंस्पेक्टर को ट्रैक्टर से कुचल कर मारा, होमगार्ड घायल

Bihar Crime News: 2018 बैच के पुलिस अधिकारी प्रभात रंजन वैशाली के भगवानपुर खजूरी गांव के रहने वाले थे.

Published
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

बिहार (Bihar) के वैशाली जिले के रहने वाले 2018 बैच के दरोगा प्रभात रंजन की मंगलवार, 14 अक्टूबर की सुबह बिहार के जमुई जिले में अवैध बालू कारोबारी (Sand Mafia) द्वारा हत्या कर दी गई. जमुई के गढ़ी थाना अंतर्गत चनरवर पूल के पास गढ़ी के अपर थानाध्यक्ष प्रभात रंजन को बालू माफिया के ट्रैक्टर चालक ने कुचल दिया. इनके साथ ही होम गार्ड जवान राजेश कुमार शाह गंभीर से घायल हैं. जिनका इलाज एक निजी क्लीनिक में चल रहा है.

जमुई पुलिस के मुताबिक यह घटना मंगलवार की सुबह हुई जब गढ़ी पुलिस स्टेशन के 25 वर्षीय एसआई प्रभात रंजन एक नदी से अवैध रूप से रेत ले जाने की सूचना मिलने के बाद वाहनों की जांच करने के लिए एक टीम का नेतृत्व कर रहे थे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है पूरा मामला?

आरोप है कि जैसे ही एसआई प्रभात रंजन ने बालू लदे ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की, ट्रैक्टर ने तेजी से उन्हें कुचल दिया और होम गार्ड के जवान राकेश कुमार साह को भी गंभीर रूप से घायल कर दिया. रंजन की जमुई अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई, जबकि साह का इलाज स्थानीय अस्पताल में किया जा रहा है.

Bihar Crime News: 2018 बैच के पुलिस अधिकारी प्रभात रंजन वैशाली के भगवानपुर खजूरी गांव के रहने वाले थे.

घटना के बाद कार्यवाही में जुटी बिहार पुलिस

(क्विंट हिंदी)

रंजन गढ़ी थाने के अतिरिक्त थाना प्रभारी थे.

मौके पर पहुंचे गढ़ी थाना प्रभारी अमरेश कुमार ने संवाददाताओं से कहा, “हमें रेत के अवैध परिवहन के बारे में सूचना मिली थी. हम तुरंत एसआई रंजन को अस्पताल ले गए थे लेकिन उन्हें बचा नहीं सके. हम संदिग्धों की पहचान के लिए छापेमारी कर रहे हैं.”

2018 बैच के पुलिस अधिकारी प्रभात रंजन वैशाली के भगवानपुर खजूरी गांव के रहने वाले थे.

"बहुत ही दुखद घटना है, इसमें मुख्य अपराधी कृष्णा रविदास, और इनके साथ मिथलेश ठाकुर शामिल थे. मिथलेश ठाकुर एक सलून चलाते हैं और अवैध खनन में सहयोग करते थे. कृष्णा रविदास की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है."
एसपी डॉक्टर शौर्य सुमन

राज्य पुलिस मुख्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा: “हमें रेत माफिया पर सख्ती से पेश आना होगा. ऐसी घटनाएं हमारे मनोबल को झकझोर देती हैं और लोगों में गलत संदेश भेजती हैं. हम जमुई में रेत माफिया पर कड़ी कार्रवाई करने जा रहे हैं.''

पत्रकारों ने जब इस घटना के बारे में बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से पूछा तो उन्होंने कहा कि, "क्या मामला है उन्हें अभी इसकी जानकारी नहीं है." पत्रकारों से मामले की जानकारी लेने के बाद उन्होंने कहा कि प्रशासन इस मामले में सख्त कार्यवाही करेगा.

वहीं बीजेपी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि, "जिस तरह से बालू माफियाओं का राज हो गया है. इसपर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए और डीजीपी को विजिट करना चाहिए और पुलिस का मनोबल बढ़ाकर रखना चाहिए."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×