ADVERTISEMENT

कोरोनावायरस FAQs: कैसे खरीदें सब्जी और बाकी सामान? जानिए सब कुछ

सरकार ने साफ किया है कि जरूरी सामान लॉकडाउन के दौरान मिलता रहेगा

Updated
भारत
3 min read
सरकार ने साफ किया है कि जरूरी सामान लॉकडाउन के दौरान मिलता रहेगा
i

कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्रव्यापी ऐलान के बाद, राशन और सब्जी की दुकानों पर लोगों की भारी भीड़ देखने को मिली. लॉकडाउन के बाद ऑनलाइन ग्रॉसरी स्टोरी को भी सामान डिलीवरी करने में परेशानी का सामना करना पड़ा. लोग जानना चाह रहे हैं कि लॉकडाउन के दौरान वो रोजाना की चीजें, जैसे सब्जी और दूध कैसे खरीद पाएंगे?

अगर आपके मन में भी ये सवाल है, तो घबराएं नहीं. सरकार ने साफ किया है कि लॉकडाउन के दौरान जरूरी सर्विस, जैसे दूध, सब्जी, दवाइयां, घर का सामान मिलता रहेगा. हालांकि, कई राज्यों ने ग्रॉसरी स्टोर के खुलने के लिए एक समय निर्धारित किया है, लेकिन फिर भी लोगों में कंफ्यूजन है.

यहां जानिए सब कुछ:

लॉकडाउन के दौरान कैसे खरीदें जरूरत का सामान?

ये रही बड़े राज्यों/शहरों की लिस्ट:

  • अगर आप दिल्ली में रहते हैं, तो आप किसी भी नजदीकी किराने की दुकान पर जाकर सामान ले सकते हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है कि दिल्ली में सभी ग्रॉसरी स्टोर 24X7 खुलेंगे.
  • उत्तर प्रदेश में, होम डिलीवरी सबसे बेस्ट ऑप्शन है. यूपी में करीब 10,000 गाड़ियों और 12,000 वेंडर्स को सब्जी और दवाइयों की होम डिलीवरी की इजाजत दी गई है.
  • चंडीगढ़ में भी दूध, सब्जी और दूसरे जरूरी सामानों की होम डिलीवरी शुरू हो गई है. सब्जी और ग्रॉसरी वेंडर्स को कर्फ्यू पास दिए गए हैं.
  • श्रीनगर में, 28 मार्च से 1.6 लाख परिवारों को पीडीएस राशन की होम डिलीवरी शुरू होगी.
  • लखनऊ में, पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि जरूरी सामान की दुकानें सुबह 6 बजे से रात 11 बजे तक खुलेंगी.
  • महाराष्ट्र में, सरकार ने स्पष्ठ किया है कि फल, सब्जी और ग्रॉसरी बेचने वालों को लॉकडाउन में छूट दी गई है.
  • कर्नाटक में, पुलिस डायरेक्टर-जनरल ने कहा है कि ग्रॉसरी स्टोर और सुपरमार्केट 24X7 खुलेंगे.
  • पंजाब के जालंधर में भी, प्रशासन सुनिश्चित कर रहा है कि ग्रॉसरी की होम डिलीवरी हो.
ADVERTISEMENT

क्या ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं ग्रॉसरी?

राज्य सरकारों के सुनिश्चित करने के बाद से, बिग बास्केट और ग्रॉफर्स जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां देश के कई हिस्सों में सर्विस दे रही हैं.

  • बिग बास्केट- अहमदाबाद, बेंगलुरु, भोपाल, कोयंबटूर, इंदौर, मुंबई, मैसूर, नोएडा, सूरत और वडोदरा जैसे शहरों में सर्विस दे रही है. अभी गाजियाबाद, गुड़गांव, हैदराबाद, जयपुर, कोलकाता, लखनऊ और पटना में उनकी सर्विस चालू नहीं है.
  • ग्रॉफर्स- दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदबाद, लखनऊ, कानपुर और बेंगलुरू में सामान डिलीवर कर रही है.

पेरेंट्स भारत में हैं और आप नहीं? तो कैसे पहुंचाएं उन तक सामान?

मुंबई, पुणे और बेंगलुरू में लोगों ने कई वॉलंटियर्स ग्रुप बनाए हैं, जो बुजुर्ग लोगों के घर दूध, सब्जी और दवाइयों को डिलीवर कर रहे हैं. कई एनजीओ भी बुजुर्ग लोगों की मदद के लिए हेल्पलाइन बनाई है, जो घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं.

  • मुंबई में, 'प्रोजेक्ट मुंबई' नाम से एक एनजीओ बुजुर्ग लोगों को दवाई और ग्रॉसरी पहुंचा रहा है. आप उनसे यहां कॉन्टैक्ट कर सकते हैं.
  • अहमदाबाद में, स्वरा स्माइल फाउंडेशन खाना डिलीवर कर रहा है. आप उनके हेल्पलाइन नंबर्स पर यहां कॉल कर सकते हैं.
  • चेन्नई में, भूमिका ट्रस्ट का बुजुर्ग लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर पूरे शहर के लिए. आप उनसे यहां कॉन्टैक्ट कर सकते हैं.
  • हैदराबाद में, 'वन बिग फैमिली' नाम के एक ऐप ने बुजुर्ग लोगों को फ्री डिलीवरी देने के लिए एक फ्री हेल्पलाइन नंबर जारी किया है.
  • कोलकाता में, पुलिस ने सीनियर सीटिजन्स के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है.
  • चंडीगढ़ में भी, बुजुर्ग लोगों को दवाई की होम डिलीवरी के लिए एक स्पेशल हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है.
  • दिल्ली पुलिस ने भी ऐसे बुजुर्गों के लिए जो घर परअकेले रहते हैं, एक सुविधा का ऐलान किया है. पुलिस ने कहा है कि वो जरूरत के सामान के लिए उनके लोकल अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT