ADVERTISEMENT

ऑक्सीजन कमी से आंध्र में 11 मौतें, हैदराबाद में 7 लोगों की जान गई

देश में ऑक्सीजन की कमी से मौतों का सिलसिला अभी भी जारी है

Updated
भारत
2 min read

देश में ऑक्सीजन की कमी से मौतों का सिलसिला अभी भी जारी है. इस बार दक्षिण भारत के दो अस्पतालों में लोगों ने ऑक्सीजन की कमी की वजह से अपनी जान गंवाई है. आंध्र प्रदेश के तिरुपति में जहां रुइया अस्पताल में 11 कोविड मरीजों की मौत हो गई, वहीं हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल से भी सात लोगों की जान जाने की खबर सामने आई है.

ADVERTISEMENT

भारत में कोविड संकट बढ़ने के बाद से ऑक्सीजन कमी की खबरें लगातार आ रही हैं. कई देश भारत को ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर, जनरेटर, सिलिंडर की मदद दे चुके हैं, लेकिन अभी भी स्थिति में कोई बड़ा सुधार देखने को नहीं मिला है.

5 मिनट का सप्लाई कट बना मौत की वजह

आंध्र प्रदेश के तिरुपति शहर में श्री वेंकटेश्वरा रामनारायण रुइया सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन टैंकर देरी से पहुंचने की वजह से 11 कोविड मरीजों की मौत हो गई. ये सभी मरीज वेंटीलेटर सपोर्ट पर थे.

चित्तूर के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर एम हरी नारायण ने कहा कि लो प्रेशर ऑक्सीजन की वजह से हादसा हुआ. उन्होंने कहा, “ऑक्सीजन सिलिंडर रीलोड करने में 5 मिनट के लिए सप्लाई में प्रेशर की कमी हुई, जिसकी वजह से मरीजों की मौत हो गई.” 
ADVERTISEMENT

हालांकि, मरीजों के परिजन आरोप लगा रहे हैं कि ऑक्सीजन सप्लाई 45 मिनट तक कटी रही थी.

डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ने कहा कि तमिलनाडु से आने वाले ऑक्सीजन टैंकर में देरी होने की वजह से ये संकट पैदा हुआ. नारायण ने कहा, "अब सब सामान्य है. चिंता की कोई बात नहीं. मेडिकल स्टाफ की त्वरित कार्रवाई से बड़ा हादसा होने से बच गया."\

सीएम जगन मोहन रेड्डी ने मरीजों की मौत पर शोक जताया है और जांच का आदेश दिया है.
ADVERTISEMENT

हैदराबाद में कोविड अस्पताल में हादसा

ऑक्सीजन की कमी से मौतों की दूसरी घटना हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में घटी. NDTV की खबर के मुताबिक, 10 मई को दो घंटे की सप्लाई कट की वजह से सात मरीजों की मौत हो गई. हालांकि, अथॉरिटीज ने इस बात से इनकार कर दिया है.

घटना हैदराबाद के जिला अस्पताल किंग कोटी की है. ये एक डेडिकेटेड कोविड फैसिलिटी है, जिसमें 300 ऑक्सीजन बेड और 50 ICU बेड हैं. रिपोर्ट का कहना है कि दोपहर 3 बजे ऑक्सीजन सप्लाई कट हो गई थी.  

NDTV के मुताबिक, स्थिति और खराब तब हो गई जब अस्पताल के लिए निकला एक ऑक्सीजन टैंकर रास्ता भटक गया. बाद में पुलिस इसे अस्पताल लेकर पहुंची.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT