ऑड-ईवन ने सुधारी दिल्ली की हवा? AQI के आंकड़ों से जानिए

3 नवंबर के मुकाबले 4 नवंबर को दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार देखने को मिला है.

Published
भारत
3 min read
3 नवंबर के मुकाबले 4 नवंबर को दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार देखने को मिला है.
i

दिल्ली में ऑड-ईवन स्कीम लागू हुए 3 दिन हो चुके हैं. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया इसे बेहद कारगर सिस्टम बताते हैं. सिसोदिया का कहना है कि ऑड-ईवन सिस्टम से न सिर्फ प्रदूषण की दिक्कत दूर हो रही है, बल्कि सड़कों पर जाम की समस्या भी हल हो गई है.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने ऑड-ईवन को लताड़ भी लगाई थी. कोर्ट ने दिल्ली सरकार से ऑड-ईवन से होने वाले फायदे पर रिकॉर्ड पेश करने को कहा. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि आखिर इससे फायदा क्या हो रहा है?

ऐसे में क्विंट हिंदी ने दिल्ली के चार इलाकों (आनंद विहार, बवाना, ITO, अलीपुर) के एयर क्वालिटी इंडेक्स के आंकड़े जुटाए. ये आंकड़े ऑड-ईवन शुरू होने के दो दिन पहले यानी 2 नवंबर से लेकर 6 नवंबर तक के हैं.

आंकड़ों में क्या दिखता है?

एयर क्वालिटी इंडेक्स के आंकड़ों में दिखता है कि 2 नवंबर के मुकाबले 3 नवंबर को इन चारों इलाकों में हवा की गुणवत्ता खराब हुई है. वहीं 3 नवंबर के मुकाबले 4 नवंबर को हवा की गुणवत्ता में सुधार देखने को मिला है. 4 नवंबर को ही दिल्ली में ऑड ईवन स्कीम शुरू हुई थी.

क्विंट हिंदी का ये दावा बिल्कुल भी नहीं है कि हवा की गुणवत्ता में आए इस सुधार की वजह सिर्फ ऑड-ईवन ही है. लेकिन आंकड़ें ये दिखाते हैं कि जब से ऑड-ईवन लागू हुआ है, हवा की गुणवत्ता में सुधार देखने को मिला है.

ऑड-ईवन ने सुधारी दिल्ली की हवा? AQI के आंकड़ों से जानिए
(ग्राफिक्स: Arnica Kala)
ऑड-ईवन ने सुधारी दिल्ली की हवा? AQI के आंकड़ों से जानिए
(ग्राफिक्स: Arnica Kala)
ऑड-ईवन ने सुधारी दिल्ली की हवा? AQI के आंकड़ों से जानिए
(ग्राफिक्स: Arnica Kala)
ऑड-ईवन ने सुधारी दिल्ली की हवा? AQI के आंकड़ों से जानिए
(ग्राफिक्स: Arnica Kala)

ऑड-ईवन सिस्टम क्या है?

दिल्ली में 4-15 नवंबर के बीच ऑड-ईवन नियम लागू है. इस नियम के मुताबिक, महीने के ऑड (विषम) तारीख पर दिल्ली की सड़कों पर सिर्फ ऑड नंबर से खत्म होने वाले रजिस्ट्रेशन संख्या वाली कारों को चलाने की ही अनुमति है. वहीं ईवन (सम) तारीख पर सिर्फ सम नंबर से खत्म होने वाली गाड़ियों को अनुमति है. रविवार को छोड़कर ये नियम सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक मान्य है. साथ ही इस योजना का उल्लंघन करने पर 4,000 रुपये जुर्माना भी रखा गया है.

ऑड-ईवन स्कीम का उल्लंघन करने पर तीन दिनों में 982 चालान कट चुके हैं. पहले दिन 192, दूसरे दिन 384 और तीसरे दिन 406 चालान काटे गए.

बीजेपी ने मानने से किया था इनकार

दिल्ली-एनसीआर में हर साल की तरह इस साल भी प्रदूषण ने लोगों का सांस लेना मुश्किल कर दिया है. वहीं बीजेपी और आम आदमी पार्टी प्रदूषण के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रही हैं. सत्तारूढ़ आप ऑड-ईवन स्कीम को कामयाब बता रही है, तो बीजेपी ने इस योजना को मानने से ही इनकार कर दिया है. पहले दिन सोमवार को बीजेपी नेता विजय गोयल ने नियम का जानबूझकर उल्लंघन किया और 4000 रुपये का चालान कटवाया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!