ADVERTISEMENT

'प्राइवेट पार्ट पर करंट लगाया, मुंह में कपड़ा बांध पानी डाला',यूपी पुलिस पर आरोप

Etah: पीड़ित का कहना है वो लूट की वारदात का शिकार हुआ था, पुलिस से शिकायत की तो उसे ही 'थर्ड डिग्री' दी गई.

Published
भारत
3 min read

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

यूपी के एटा में एक ट्रक चालक ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं. अनिरुद्ध नाम के शख्स का कहना है कि उसके साथ हाइवे पर लूट हुई, लेकिन शिकायत करने पर पुलिस ने उल्टा उसे ही प्रताड़ित किया. प्राइवेट पार्ट में करंट लगाया. उल्टा लटकाकर मारा. मुंह कपड़े से बांध दिया और पानी डाला. इन आरोपों पर एटा के अपर पुलिस अधीक्षक धनंजय सिंह ने कहा कि, सीओ सिटी को जांच के आदेश दिए गए हैं और तत्काल रिपोर्ट मांगी गई है. अगर आरोप सही हुए तो पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ADVERTISEMENT

ट्रक की बैटरी निकालने की शिकायत की थी

गड़रियनपुरवा गांव में रहने वाले विजयपाल और अनिरुद्धपाल ट्रक चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करते हैं. 9 सितंबर की रात दोनों लखनऊ से गाड़ी चलाकर लोडिंग के लिये एटा आये थे. आरोप है कि एटा में 10 सितंबर की रात करीब 11 बजे हाइवे पर बेखौफ लुटेरों ने गाड़ी में लगी चार बैटरी निकाल ली. इसके साथ ही गाड़ी में सो रहे दोनों शख्स की जेब से उनके मोबाइल फोन और कुल पांच हजार रुपये भी लूट लिए.

अनिरुद्ध का कहना है कि पीड़ित ने 112 नंबर हेल्पलाइन पर रात करीब 11 बजकर 20 मिनट पर फोन किया. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंच गयी. घटना की जानकारी लेने के बाद चौकी इंचार्ज ने हमें ही हिरासत में ले लिया और चौकी ले गये.
ADVERTISEMENT

पुलिस पर प्राइवेट पार्ट में करंट लगाने का आरोप

पीड़ित अनिरुद्ध और विजयपाल ने बताया कि चौकी पर ले जाने के बाद चौकी इंचार्ज विपिन भाटी और उनके सहयोगी 4 पुलिसकर्मियों ने उनके साथ मारपीट की. अनिरुद्ध ने बताया कि

"पुलिस वालो ने मेरे प्राइवेट पार्ट में बिजली का करेंट लगाया और उल्टा लटकाकर मारा, जब उनका इतने से भी मन नहीं भरा तो उन्होंने मेरा मुंह कपड़े से बांध दिया और लगभग 30 मिनट तक भिगोते रहे. मेरा पूरा मुंह पानी में डुबो दिया. मुझे ऐसा लग रहा था इससे तो अच्छा ये पुलिस वाले मुझे मार ही डालें."
अनिरुद्ध, पीड़ित

आरोप है कि पुलिस ने 11 सितंबर की सुबह करीब 11 बजे अपनी प्राइवेट गाड़ी से लाकर अनिरुद्ध और विजयपाल को जिला अस्पताल में भर्ती करवा दिया. क्विंट की टीम ने इनसे अस्पताल में ही बात की. अस्पताल के बेड पर अनिरुद्ध ने रोते हुए बताया कि "पुलिसवाले हम पर ही चोरी का शक कर रहे थे, कह रहे थे कि कहीं झाड़ियों में तो बैटरी नहीं छुपाई."

ADVERTISEMENT

एटा पुलिस ने आरोपों पर क्या कहा? 

इस घटना पर एटा पुलिस ने ट्वीट भी किया है. जिसमें लिखा है कि, एटा पुलिस को इस घटना की जानकारी 11 सितंबर की रात करीब 11:40 पर हुई. पुलिस ने ट्वीट करके रात में 1:29 पर बताया " दिनांक 10.09.22 को थाना कोतवाली देहात क्षेत्र में ट्रक बैक करते समय पीछे खड़ी बाइक से ट्रक के टकरा जाने पर ट्रक एवं बाइक चालक के बीच कहासुनी हो गई व ट्रक की बैटरी निकाल लिए जाने के संबंध में अभियोग पंजीकृत किया गया है, जांच से अन्य आरोपों की पुष्टि नहीं होती है, आवश्यक कार्रवाई जारी."

इसके बाद 12 सितंबर की सुबह आगरा जोन के अपर पुलिस महानिदेशक राजीव कृष्णा ने एटा SSP को राजपत्रित अधिकारी से जांच करवाने के बाद तथ्यों से अवगत करवाने के निर्देश दिए. वहीं एटा पुलिस ने बताया कि इस पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी को सौंपी गई है.

ADVERTISEMENT

इससे पहले भी चर्चा में रहा है ये थाना

ऐसा नहीं है ये कोतवाली देहात के पुलिसकर्मी पहली बार चर्चा में हों. 2021 में इसी थाने में तैनात पुलिसकर्मी प्रवीन ढाबे पर खाना खाने गये थे. ढाबा मालिक ने खाने के 400 रूपये मांगे तो पुलिस ने कथित तौर पर मुठभेड़ की साजिश रच दी. इस पूरे मामले की जांच एटा के तत्कालीन SSP राहुल कुमार ने की थी. इसमें पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई भी हुई थी.

केंद्र सरकार ने संसद में दिए बयान में बताया है कि 2020-21 में उत्तर प्रदेश में हिरासत में 451 मौतें दर्ज की गईं, जबकि 2021-22 में यह संख्या बढ़कर 501 हो गई. सरकारी आंकड़ों के अनुसार भारत में हिरासत में होने वाली मौतों की कुल संख्या 2020-21 में 1,940 से बढ़कर 2021-22 में 2,544 हो गई है.

इनपुट- शुभम श्रीवास्तव

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×