अब वित्त मंत्री की दलील: ओला-उबर की वजह से ऑटो सेक्टर में मंदी
अब वित्त मंत्री की दलील: ओला-उबर की वजह से ऑटो सेक्टर में मंदी
अब वित्त मंत्री की दलील: ओला-उबर की वजह से ऑटो सेक्टर में मंदी (फोटो: IANS)

अब वित्त मंत्री की दलील: ओला-उबर की वजह से ऑटो सेक्टर में मंदी

ऑटो सेक्टर में मंदी का दौर है और सरकार के मंत्री इसपर अलग-अलग तरह की सफाई दे रहे हैं. अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की दलील है कि ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री BS6 स्टैंडर्ड और मिलेनियल्स के माइंड सेट से प्रभावित है. सीतारमण ने कहा कि मिलेनियल आजकल गाड़ी खरीदने की जगह ओला-उबर को तवज्जो दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें- कार बाजार में मंदी के लिए ओला-उबर नहीं जिम्मेदार - मारुति सुजुकी

Loading...

पिछले महीने 21 साल में सबसे कम बिकी कार

वित्त मंत्री को ऐसी दलीलें इसलिए देनी पड़ रही हैं, क्योंकि पिछले महीने 21 साल में सबसे कम कार बिकी है . ऑटो मेकर्स की संस्था SIAM ने जब से बिक्री का डेटा रखना शुरू किया है, तब से कार-बाइक की बिक्री में इतनी बड़ी गिरावट नहीं दर्ज की गई है. घरेलू बाजार में इस महीने कारों की बिक्री में 41 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है. व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के संगठन SIAM की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में पैसेंजर व्हीकल्स, टू व्हीलर्स सहित अन्य वाहनों की बिक्री में ओवरऑल 23.55 प्रतिशत (YoY) की कमी आई है.

ये भी पढ़ें- FM से कांग्रेस का सवाल-क्या रियल्टी में मंदी के लिए OYO जिम्मेदार?

कारों की बिक्री में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई
कारों की बिक्री में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई
(ग्राफिक्स - क्विंट हिंदी)

सियाम की तरफ से जारी डेटा के मुताबिक पैसेंजर व्हीकल, टू व्हीलर और कमर्शियल व्हीकल की बिक्री में भारी गिरावट देखी गई है. जहां पिछले साल अगस्त में 23,82,436 यूनिट की बिक्री हुई थी, वहीं इस साल अगस्त के महीने में सिर्फ 8,21,490 यूनिट ही बिके हैं. पिछले साल के मुकाबले कुल 23.55 प्रतिशत की कमी देखी गई है.

सेंजर व्हीकल की सेल में रिकॉर्ड गिरावट

अगर जुलाई महीने की बात करें तो इस महीने ऑटो सेक्टर में पिछले 19 सालों की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई. पिछले साल जुलाई में 22,45,223 यूनिट की बिक्री हुई थी, वहीं जुलाई 2019 में कुल 18,25,148 यूनिट की बिक्री हुई. इस महीने कुल 18.71 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई. इसी तरह पैसेंजर व्हीकल्स की बिक्री में अगस्त महीने में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई है. पिछले साल अगस्त के मुकाबले इस साल 31.57 प्रतिशत की कमी आई है.

  • पिछले साल (2018) अगस्त में कुल पैसेंजर व्हीकल्स की बिक्री - 2,87,198
  • इस साल (2019) अगस्त में कुल पैसेंजर व्हीकल्स की बिक्री - 1,96,524
  • पैसेंजर्स व्हीकल की बिक्री में कुल गिरावट - 31.57 प्रतिशत

ये भी पढ़ें : चंद्रयान-2 के लिए जिस ISRO पर गर्व, वहां कटी सैलरी, फूटा गुस्सा 

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

Loading...