ADVERTISEMENT

'तुम सब मरोगे' - धमकी देता रहा नरसिंहानंद, उत्तराखंड पुलिस करती रही अनुरोध

उत्तराखंड पुलिस ने हरिद्वार धर्म संसद मामले में कार्रवाई करते हुए जितेंद्र त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है.

Updated
भारत
2 min read
<div class="paragraphs"><p>हरिद्वार में एक धर्म संसद में मुस्लिमों के नरसंहार की मांग की गई थी</p></div>
i

हरिद्वार में कथित धर्म संसद में दिए गए भड़काऊ भाषणों के आरोपी यति नरसिंहानंद का उत्तराखंड पुलिस के साथ बातचीत का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें नरसिंहानंद पुलिस को धमकी देते दिख रहे हैं. भड़काऊ भाषण देने के बावजूद नरसिंहानंद की गिरफ्तारी नहीं होने को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. अब जो वीडियो सामने आया है उसमें दिख रहा है कि कैसे उत्तराखंड पुलिस नरसिंहानंद को VIP ट्रीटमेंट दे रही है.

उत्तराखंड पुलिस ने हरिद्वार धर्म संसद मामले में कार्रवाई करते हुए वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी को गिरफ्तार कर लिया है.
ADVERTISEMENT

सामने आए वीडियो में दिखाई देता है कि त्यागी की गिरफ्तारी पर नरसिंहानंद पुलिस से सवाल कर रहे हैं, जिसपर पुलिस अनुरोध के लहजे में कहती है, "कानूनी प्रोटोकॉल के तहत हमें गिरफ्तारी करनी है. तीन मुकदमों में नाम देने हैं. स्वामी जी आप आइए तो..."

इसपर नरसिंहानंद धमकी भरे स्वर में कहते हैं, "तुम सब मरोगे... अपने बच्चों को भी..."

नरसिंहानंद ने जितेंद्र त्यागी की गिरफ्तारी को षडयंत्र बताते हुए एक बार फिर मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए नफरती बयान दिया. नरसिंहानंद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "ये एक षडयंत्र किया गया है, जिसमें कुछ गंदे लोग शामिल हैं. उस षडयंत्र में ये किया गया है कि मुस्लिम से हिंदू बनोगे तो ये हाल कर देंगे. हमें 200 करोड़ मुस्लिमों को वापस सनातन में लाना है."

पुलिस को लेकर दिया आपत्तिजनक

जितेंद्र त्यागी की गिरफ्तारी के बाद एक लाइव में नरसिंहानंद ने पुलिस को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया. नरसिंहानंद ने कम बच्चे पैदा करने के लिए हिंदू समुदाय के लोगों के लिए भी आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया.

'अधर्म संसद' को लेकर FIR कई, लेकिन गिरफ्तारी केवल एक

वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र त्यागी को उत्तराखंड के रुड़की से गिरफ्तार किया गया. नरसिंहानंद, त्यागी और अन्नपूर्णा उन 10 से ज्यादा लोगों में शामिल हैं, जिनके नाम एफआईआर में शामिल है. हरिद्वार की कथित धर्म संसद में मुसलमानों के खिलाफ नरसंहार और हथियारों के इस्तेमाल का आह्वान किया गया था.

ADVERTISEMENT

अब तक नरसिंहानंद की गिरफ्तारी क्यों नहीं?

कई बार अपने भड़काऊ भाषणों को लेकर चर्चा में आ चुके नरसिंहानंद की अभी तक गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई है, वो पुलिस के रवैये में दिखती है. धर्म संसद से पांच लोग मौलवियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए पुलिस के पास गए. इस घटना का जो वीडियो सामने आया, उसमें पूजा शकुन पांडे पुलिस अधिकारी की ओर इशारा करती हुई कहती हैं, "एक संदेश जाना चाहिए कि आपका किसी की तरफ झुकाव नहीं हैं और आप प्रशासनिक अधिकारी हैं और सभी के लिए समान हैं. हम आपसे ये उम्मीद रखते हैं."

इसपर पुलिस अधिकारी के बगल में खड़े नरसिंहानंद कहते हैं, "निष्पक्ष क्यों? हमारा लड़का है, हमारी तरफ होगा." इसपर कमरे में मौजूद सभी लोग और पुलिस अधिकारी हंसने लगते हैं.

कालीचरण भी गिरफ्तार, गांधी को कहे थे अपशब्द

हरिद्वार धर्म संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपशब्द कहने वाले कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस ने 30 दिसंबर में मध्य प्रदेश के खजुराहो से गिरफ्तार किया था. कालीचरण महाराज ने धर्म संसद में कहा था, "मोहनदास करमचंद गांधी ने सत्यनाश कर दिया. नाथुराम गोडसे जी को नमस्कार है. मार डाला उनको."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT