ADVERTISEMENTREMOVE AD

हरियाणा के करनाल में ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने दिए सिर फोड़ने के आदेश, कई किसान घायल

हरियाणा के करनाल में पुलिस ने किसानों पर किया लाठीचार्ज, कई किसान घायल

Updated
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

केंद्र सरकार के विवादित कृषि कानूनों के चलते किसान पिछले करीब 10 महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं. लेकिन बीजेपी शासित हरियाणा में किसानों और पुलिस के बीच पिछले कई महीनों से टकराव होता आया है, किसानों पर लाठीचार्ज और उन्हें गिरफ्तार करने के लगातार आरोप लगते आए हैं. लेकिन अब हरियाणा के करनाल से एक वीडियो सामने आया है, जिसमें डिप्टी मजिस्ट्रेट (SDM) पुलिसकर्मियों को ये आदेश दे रहे हैं कि यहां से कोई भी गुजरे तो उसका सिर फूटा होना चाहिए.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सिर फोड़ने के आदेश के बाद कई चोटिल किसानों की तस्वीरें वायरल

करनाल के एसडीएम आयुष सिन्हा का ये वीडियो सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रहा है, तमाम लोग इसकी आलोचना कर रहे हैं. लेकिन खास बात ये है कि, इस वीडियो के सामने आने के ठीक बाद कई ऐसी तस्वीरें भी सामने आने लगी हैं, जिनमें किसानों के सिर से खून निकलता हुआ नजर आ रहा है. साथ ही पुलिस के लाठीचार्ज के भी वीडियो शेयर किए जा रहे हैं.

दिल्ली के उत्तम नगर से आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बालियान ने इस घटना से जुड़े तमाम वीडियो शेयर किए हैं. ड्यूटी मजिस्ट्रेट का जो वीडियो शेयर किया गया है, उसमें वो कहते दिख रहे हैं,

"सिंपल है, जो भी हो यहां से कोई भी वहां नहीं जाएगा. मैं स्पष्ट कर देता हूं कि सिर फोड़ देना. मैं ड्यूटी मजिस्ट्रेट हूं, लिखित में बता रहा हूं. सीधे लठ मारना सिर पर... कोई डाउट? कोई जाएगा इसे ब्रीच करके? सीधे उठा उठाकर मारना पीछे से. कोई डायरेक्शन की जरूरत नहीं है. ये नाका हम ब्रीच नहीं होने देंगे. हम दो दिन से ड्यूटी कर रहे हैं. क्लियर है, यहां से कोई बंदा नहीं जाना चाहिए, अगर जाए तो उसका सिर फूटा होना चाहिए."
0

बीजेपी नेताओं के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन

दरअसल हरियाणा के करनाल में मुख्यमंत्री खट्टर और बीजेपी के तमाम विधायकों और सांसदों की एक बैठक थी. बीजेपी के खिलाफ किसान प्रदर्शन कर रहे हैं, तो इस मौके पर भी कुछ किसानों ने प्रदर्शन करने की तैयारी की थी. जिसे देखते हुए पुलिस फोर्स को तैनात किया गया था.

ड्यूटी मजिस्ट्रेट के इन आदेशों के बाद जब किसान प्रदर्शन करने उतरे तो उन पर जमकर लाठियां बरसाई गईं. कई किसानों के सिर पर गहरी चोटें भी आई हैं. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×