ADVERTISEMENT

पॉप स्टार रिहाना का किसानों के समर्थन में ट्वीट-‘चर्चा क्यों नहीं’

पिछले दो महीने से दिल्ली में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान

Updated
भारत
2 min read
पिछले दो महीने से दिल्ली में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान
i

पॉप स्टार रिहाना ने किसान प्रदर्शन के समर्थन में ट्वीट किया है. उन्होंने CNN के आर्टिकल को हैशटैग #FarmersProtest के साथ शेयर करते हुए लिखा है, 'हम इसके बारे में बात क्यों नहीं कर रहे.' दुनियाभर में मशहूर रिहाना के 10 करोड़ से ज्यादा ट्विटर फॉलोअर हैं.

इंटरनेट पर रोक को लेकर आर्टिकल किया ट्वीट

जिस न्यूज आर्टिकल को रिहाना ने शेयर किया है उसकी हेडलाइन है-' प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस के बीच झड़प के बाद दिल्ली के आसपास के इलाकों में इंटरनेट पर रोक'.

बता दें कि 2 फरवरी तक गाजीपुर, सिंघु, टिकरी बॉर्डर के इलाकों में इंटरनेट सर्विस पर रोक लगा दी गई है. 2 फरवरी की शाम को खबर आई कि हरियाणा सरकार ने कैथल, पानीपत, जींद, रोहतक, चरखी, दादरी, सोनीपत और झज्जर में वॉयस कॉल को छोड़कर मोबाइल इंटरनेट सर्विस (2 जी/3 जी/4 जी /सीडीएमए / जीपीआरएस), एसएमएस सर्विसऔर सभी डोंगल सर्विस पर लगी सस्पेंशन को बढ़कर 3 फरवरी को शाम 5 बजे तक कर दिया है.

राजनीतिक मुद्दों पर मुखर हैं रिहाना

अब अगर ऐसा समझा जाए कि रिहाना ने भूलवश या किसी बहकावे में ये ट्वीट कर दिया है तो ऐसा सोचना सही नहीं होगा. पॉलिटिकल नजरिए की बात करें तो बाराबेडोज में जन्मीं और अमेरिका में रहकर नाम कमाने वाली रिहाना का झुकाव डेमोक्रेट्स की तरफ रहा है. इमिग्रेशन के मुद्दे पर वो ट्रंप की आलोचक रही हैं, एक बार उन्होंने इमीग्रेंट्स लिखी हुई T-शर्ट पहने और उसमें ट्रंप को टैग कर इंस्टाग्राम पर पोस्ट डाला था.

वो बराक ओबामा का समर्थन कर चुकी हैं. उनके गानों से भी राजनीतिक विचार बखूबी झलकता है. रिहाना के ट्विटर पर कवर इमेज में मार्टिन लूथर किंग जूनियर की तस्वीर है.

पॉप स्टार रिहाना का किसानों के समर्थन में ट्वीट-‘चर्चा क्यों नहीं’
ADVERTISEMENT

किलेबंदी को लेकर भी सरकार की आलोचना

इंटरनेट बंद किए जाने के अलावा पिछले दिनों ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के बाद गाजीपुर में बिजली और पानी सप्लाई बंद कर दी गई थी. जिसे लेकर किसानों ने जमकर विरोध जताया. किसानों ने कहा कि सरकार इस आंदोलन को दबाने की कोशिश कर रही है. वहीं अब किसान आंदोलन को लेकर पुलिस की तैयारियों की खूब चर्चा है. पुलिस ने दिल्ली के तमाम बॉर्डर को कुछ इस तरह सील कर दिया है कि लोग इसे पाकिस्तान और चीन का बॉर्डर बताने लगे हैं. सड़कों पर दीवारें बनाई गई हैं, कंटीली तारें, कीलें, सीमेंट के बैरिकेड्स और भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है. विपक्ष भी इस किलेबंदी को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT