हमसे जुड़ें
ADVERTISEMENTREMOVE AD

अडाणी ग्रुप का नाम लेकर राहुल गांधी ने केंद्र को घेरा, कहा-क्यों नहीं हो रही जांच?

‘PM मोदी को अडाणी ग्रुप के खिलाफ JPC का गठन करना चाहिए’- राहुल गांधी

Published
भारत
2 min read
अडाणी ग्रुप का नाम लेकर राहुल गांधी ने केंद्र को घेरा, कहा-क्यों नहीं हो रही जांच?
i
Hindi Female
listen

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

'INDIA' गठबंधन की दो दिवसीय बैठक का आयोजन मुंबई में हो रहा है. बैठक के पहले दिन करीब 28 दलों के 63 प्रतिनिधि मीटिंग में शामिल हुए. इस बैठक से पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और अडाणी ग्रुप का नाम केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

केंद्र सरकार पर राहुल गांधी का निशाना

अडाणी समूह विवाद पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, "यह G20 का समय है और यह दुनिया में भारत की स्थिति के बारे में है. भारत जैसे देश के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण बात है कि हमारी आर्थिक स्थिति और यहां संचालित होने वाले व्यवसायों में समान अवसर और पारदर्शिता हो. आज सुबह दो वैश्विक वित्तीय अखबारों ने एक बेहद अहम सवाल उठाया है. ये कोई रैंडम समाचार पत्र नहीं हैं. ये समाचार पत्र भारत में निवेश और शेष विश्व में भारत के बारे में धारणा को प्रभावित करते हैं."

G20 के नेताओं के यहां आने से ठीक पहले वे पूछ रहे होंगे कि यह कौन सी विशेष कंपनी है, जिसका स्वामित्व प्रधानमंत्री के करीबी सज्जन के पास है और भारत जैसी अर्थव्यवस्था में इस सज्जन को मुफ्त यात्रा क्यों दी जा रही है
राहुल गांधी, कांग्रेस, नेता

राहुल गांधी ने पूछे सवाल

उन्होंने आगे कहा, "पहला सवाल यह उठता है कि- ये किसका पैसा है? ये अडानी का पैसा है या किसी और का है? इसके पीछे के मास्टरमाइंड विनोद अडाणी नामक एक सज्जन हैं जो गौतम अडाणी के भाई हैं. पैसे की इस हेरा-फेरी में दो अन्य लोग भी शामिल हैं. एक सज्जन हैं जिनका नाम नासिर अली शाबान अहली है और दूसरे एक चीनी सज्जन हैं जिनका नाम चांग चुंग लिंग है. तो, दूसरा सवाल उठता है कि- इन दो विदेशी नागरिकों को उन कंपनियों में से एक के मूल्यांकन के साथ खेलने की अनुमति क्यों दी जा रही है. जो लगभग सभी भारतीय बुनियादी ढांचे को नियंत्रित करती है."

राहुल गांधी ने कहा, "जांच हुई, सेबी को सबूत दिए गए और सेबी ने गौतम अडाणी को क्लीन चिट दे दी, तो साफ है कि यहां कुछ गड़बड़ है."

'JPC जांच कराएं पीएम मोदी'

उन्होंने कहा, "यह बहुत महत्वपूर्ण है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना नाम साफ करें और स्पष्ट रूप से बताएं कि क्या चल रहा है. कम से कम JPC की अनुमति दी जानी चाहिए और गहन जांच होनी चाहिए. मुझे समझ नहीं आ रहा कि प्रधानमंत्री जांच क्यों नहीं करवा रहे हैं? वे चुप क्यों हैं और जो लोग जिम्मेदार हैं क्या उन्हें सलाखों के पीछे डाल दिया गया है? G20 नेताओं के यहां आने से ठीक पहले यह प्रधानमंत्री पर बहुत गंभीर सवाल उठा रहा है. यह महत्वपूर्ण है कि उनके (G20 नेताओं) आने से पहले इस मुद्दे को स्पष्ट किया जाए."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
और खबरें
×
×