कंगना फ्लाइट विवाद: इंडिगो ने 9 पत्रकारों पर 15 दिन का बैन लगाया

पत्रकारों को बैन के बारे में जानकारी दी गई

Published
भारत
2 min read
पत्रकारों को बैन के बारे में जानकारी दी गई
i

फ्लीट साइज के मामले में भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी इंडिगो ने 15 दिन के लिए नौ पत्रकारों को बैन कर दिया है. एयरलाइन की एक आंतरिक कमेटी की सिफारिश के बाद इन पत्रकारों को 15 से 30 अक्टूबर तक बैन किया गया है. 9 सितंबर को इंडिगो की एक फ्लाइट में कई पत्रकारों के कथित उपद्रवी व्यवहार के बाद ये कमेटी इस मामले को देख रही थी.

9 सितंबर को इंडिगो की चंडीगढ़ से मुंबई जा रही फ्लाइट में एक्टर कंगना रनौत भी मौजूद थीं. इंडिगो के एविएशन सेफ्टी रेगुलेटर DGCA को दी गई एक रिपोर्ट के मुताबिक, कई टेलीविजन पत्रकारों ने इस फ्लाइट में सोशल डिस्टेंसिंग और सेफ्टी प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया.  

पत्रकारों के इस रवैये की कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थीं. इसके बाद DGCA ने इंडिगो के लिए दंडात्मक कदम उठाते हुए 'फ्लाइट में फोटोग्राफी' पर मनाही के नियम को सुनिश्चित करने को कहा. DGCA ने अपने आदेश में कहा था कि अगर इस नियम का उल्लंघन होता है, तो उस सेक्टर की फ्लाइट को दो हफ्ते के लिए सस्पेंड कर दिया जाएगा और तभी बहाल किया जाएगा, जब कंपनी सभी दोषियों के खिलाफ दंडात्मक कदम उठाएगी.

इंडिगो ने दी थी रिपोर्ट

DGCA के इस आदेश के बाद इंडिगो ने रेगुलेटर को एक रिपोर्ट सौंपी थी, जिसमें कहा गया कि कंपनी के क्रू ने सभी जरूरी प्रोटोकॉल फॉलो किया था. इस प्रोटोकॉल में फोटोग्राफी न करने, सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखने और ओवरऑल सेफ्टी बनाए रखने का अनाउंसमेंट शामिल था. एयरक्राफ्ट में हानिकारक रवैये से बचाव के नियमों के मुताबिक, इंडिगो ने इस घटना की जांच के लिए एक आंतरिक कमेटी बनाई थी.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडिगो के एक सूत्र ने बताया है कि जिन नौ पत्रकारों पर बैन लगा है, उन्हें इसके बारे में जानकारी दे दी गई है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!