जितना काम हमनें किया उतना चुनी हुई सरकार भी नहीं करती:सत्यपाल मलिक
जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक
जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक(फोटो - PTI)
Live

जितना काम हमनें किया उतना चुनी हुई सरकार भी नहीं करती:सत्यपाल मलिक

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म किए जाने के बाद लगाई गई पाबंदियों में कुछ हद तक ढील दी जा रही थी, लेकिन मुहर्रम से ठीक पहले घाटी के कई इलाकों में फिर से तारबंदी कर दी गई. इस मौके पर यहां सड़कों पर फिर से सैकड़ों जवानों की तैनाती हो चुकी है. हालांकि श्रीनगर के कुछ इलाकों को छोड़कर अधिकतर जगहों से पाबंदियां हटाने का दावा किया जा रहा है.

वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे को एक बार फिर उठाने के लिए तैयार है. जेनेवा में यूनाइटेड नेशंस ह्यूमन राइट्स काउंसिल के रेगुलर सेशन के पहले ही दिन जम्मू-कश्मीर का मुद्दा उठाया गया. इस पर अब भारत भी जवाब देने के लिए तैयार है.

NEWEST FIRSTOLDEST FIRST
(3) NEW UPDATES

राज्यपाल सत्यपाल मलिक बोले, जितना काम मैंने किया उतना चुनी हुई सरकार भी नहीं करती

जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कठुआ में एक कार्यक्रम में अपने एक साल के कार्यकाल की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, “देश की निगाह में, राज्यपाल एक ऐसा व्यक्ति है जो गोल्फ खेलता है और जनता के लिए कुछ नहीं करता है, वह सिर्फ अपने शासन के दौरान आराम करता है. लेकिन जितना काम हमने पिछले एक साल में किया है, मुझे नहीं लगता कि उतना काम एक निर्वाचित सरकार भी करती है.”

पीडीपी के जिलाध्यक्ष की बंदूक छीनी

कश्मीर के किश्तवाड़ इलाके में पीडीपी के जिलाध्यक्ष शेख नासिर के एक प्रोटेक्टिन सर्विस अफसर (पीएसओ) से अज्ञात शख्स ने बंदूक छीन ली. अंगरेज सिंह राणा, डिप्टी कमिश्नर, किश्तवाड़ ने बताया कि पुलिस बंदूक की तलाश कर रही है, चेक-पॉइंट पर भी तलाशी की जा रही है.

सुरक्षा का जायजा लेने जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ का कश्मीर दौरा

जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, उत्तरी कमान, लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने आज आज कश्मीर घाटी का दौरा किया. उन्होंने कश्मीर घाटी में मौजूदा सुरक्षा स्थिति की समीक्षा किया.

कश्मीर में दवाओं की कमी नहीं, 92% क्षेत्र में पाबंदी नहीं: MEA

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में दवाओं की कमी नहीं और 92% क्षेत्र में कोई पाबंदी नहीं है. प्रवक्ता ने कहा, "बैंकिंग सुविधाएं सामान्य हैं और 95% हेल्थकेयर कर्मी ड्यूटी पर हैं."

आगे पढ़ें

Follow our भारत section for more stories.

Loading...