जियो ने लॉन्च किया 'JioMeet',लोगों ने कहा- ये तो एकदम Zoom जैसा है

इस प्लेटफॉर्म का लुक काफी कुछ जूम एप जैसा मिलता जुलता है

Published03 Jul 2020, 07:47 AM IST
भारत
2 min read

दुनियाभर से निवेश जुटाने के बाद अब जियो प्लेटफॉर्म ने 2 जुलाई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जियो मीट लॉन्च कर दिया है. खास बात ये है कि इसमें अनलिमिडेट फ्री कॉलिंग की सुविधा दी गई है. लेकिन सोशल मीडिया पर कई लोग इसकी आलोचना इसलिए कर रहे हैं क्यों कि ये काफी कुछ जूम एप जैसा मिलता जुलता है.

जियो का ये ऐलान ऐसे वक्त में आया है जब देश में पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर भारत का आव्हान किया है और साथ ही भारत की सरकार ने हाल में ही भारत की एकता और संप्रभुता को ध्यान में रखते हुए 59 चीनी एप को बैन किया है.

जियो मीट क्या है?

जियो मीट हाईडेफिनेशन मोड में अनलिमिटेड फ्री कॉल देता है जिसमें एक बार में 100 लोग जुड़ सकते हैं. इसके अलावा जियो मीट पर किसी तरह के टाइम का बंधन भी नहीं है. जियो का कहना है कि ये पूरी तरह फ्री कॉल है जिसे लगातार 24 घंटे इस्तेमाल किया जा सकता है.

कैसे काम करता है?

इसके लिए किसी भी तरह के कोड या इनवाइट भेजने की जरूरत नहीं है. जो इसके डेस्कटॉप वर्जन से जुड़ना चाहते हैं उनको इनवाइट लिंक पर क्लिक करना होगा और वो ब्राउजर के जरिए ही बिना एप डाउनलोड किए जुड़ सकते हैं.

इसके दूसरे फीचर्स में आप मीटिंग्स को श्येड्यूल कर सकते हैं, स्क्रीन शेयर कर सकते हैं और इसके अलावा भी कुछ ऑप्शन हैं.

ऐसे करें डाउनलोड

मोबाइल के लिए अपने प्लेट स्टोर या एप स्टोर पर जाइए और Jio Meet सर्च करके एप्लीकेशन को डाउनलोड करके इन्सटॉल कर लीजिए.

डेस्कटॉप के लिए आप Jio Meet की वेबसाइट पर जाएं और वहां से एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते हैं.

सोशल मीडिया पर लोग जूम और जियो में ढूंढ रहे फर्क

जियो मीट के ऐलान के बाद ट्विटर कई लोग इसकी आलोचना कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि ये ठीक जूम एप की तरह ही दिखता है. जियो मीट के फीचर्स और लुक भी जूम एप की तरह ही हैं.

स्नैपशॉट

लोग दोनों एप में फर्क ढूंढने की बात कर रहे हैं.

अप्रैल के आखिर में भारत सरकार ने इनोवेशन चैलेंज का ऐलान किया था. जिसके मुताबिक जो भी डेवलेपर भारत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप बनाएगा जो जूम का विकल्प बन सके उसको ईनाम के तौर पर एक करोड़ रुपये दिए जाएंगे.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!