कार्ति चिदंबरम की टीवी एंकरों से अपील- स्टोरी कवरेज में रखें संयम
कार्ति चिदंबरम को CBI ने INX मीडिया को FIPB की मंजूरी के बदले रुपये लेने के आरोप में 28 फरवरी 2018 को गिरफ्तार किया था
कार्ति चिदंबरम को CBI ने INX मीडिया को FIPB की मंजूरी के बदले रुपये लेने के आरोप में 28 फरवरी 2018 को गिरफ्तार किया था(फाइल फोटोः IANS)

कार्ति चिदंबरम की टीवी एंकरों से अपील- स्टोरी कवरेज में रखें संयम

कार्ति चिदंबरम ने INX मीडिया मामले में प्राइम टाइम के कुछ टीवी एंकरों से उनकी प्रॉपर्टी के बारे में स्टोरी कवरेज को लेकर संयम बरतने के लिए कहा है. पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति ने ट्वीट करके कहा, "मैं टीवी एंकरों से कहना चाहता हूं कि वो मेरे 'ग्लोबल वेल्थ' को लेकर स्टोरी कवरेज में थोड़ा और संयम बनाए रखें."

Loading...

कार्ति चिदंबरम ने ट्विटर पर कुछ एंकरों को ट्वीट करते हुए कहा, पिछले कुछ दिनों से कई प्राइम-टीवी शो में मेरी प्रॉपर्टी के बारे में दिखाया गया. शो में दस्तावेजों को 'विशेष रूप से' जांच एजेंसियों के सबूत के तौर पर भी दिखाया गया है.

अगर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पास ‘अघोषित संपत्ति’ या ‘आय का अघोषित स्रोत’ का कोई सबूत होता, तो वो कानूनी तौर पर मेरे खिलाफ आसानी से कार्रवाई कर सकते थे. मैं आपको याद दिला दूं कि अगर मैंने अपनी प्रॉपर्टी को गलत तरीके से दिखाया होता, तो मैं संसद में भी अयोग्य ठहरा दिया गया होता.
कार्ति चिदंबरम

कार्ति ने ये भी कहा कि उनकी छवि पीईपी (पॉलिटिकल एक्सपोज्ड पर्सन) के रूप में है. उन्होंने कहा, ऐसा कोई तरीका नहीं है कि कमाई का सोर्स बताए बगैर प्रॉपर्टी बनाई जा सकें.

बता दें, कार्ति चिदंबरम को सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने के बदले घूस लेने के आरोप में 28 फरवरी 2018 को गिरफ्तार किया था. बाद में कार्ति जमानत पर रिहा हो गए.

सीबीआई ने 15 मई 2017 को प्राथमिकी दर्ज की थी, जिसमें INX मीडिया समूह को 2007 में 305 करोड़ रुपये का विदेशी निवेश हासिल करने के लिये अवैध तरीके से एफआईपीबी मंजूरी दिये जाने का आरोप लगाया गया था. उस वक्त चिदंबरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे.

ये भी पढ़ें : इकनॉमी को बूस्टर डोज, बैंक और ऑटो के लिए बड़े ऐलान,10 बड़ी बातें

ये भी पढ़ें : मंदी पर राहुल-प्रिंयका का हमला- ‘सरकार बताए क्यों हो रही दुर्दशा’

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

    Loading...