ADVERTISEMENTREMOVE AD

MP: आदिवासी युवक की बेरहमी से पिटाई, एक गिरफ्तार, कांग्रेस हमलावर- "आरोपी बजरंग दल से जुड़ा"

Madhya Pradesh: पुलिस ने मारपीट करने वाले आरोपियों के खिलाफ धारा 365, 323, 294, 506 वा SC/ST एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

Published
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग एक आदिवासी युवक के साथ मारपीट कर रहे हैं और उसे गाली देते हैं. वायरल वीडियो में दिख रहा है कि आदिवासी शख्स के मुंह से खून निकल रहा है. साथ ही उसे मुर्गा बनाया गया है. 

इस वीडियो के वायरल होने के बाद अब आरोपी और पीड़ित दोनों की पहचान हो गई है. आरोपी का नाम चंचल राजपूत बताया जा रहा है. विपक्षी पार्टियों के नेताओं का दावा है कि चंचल बजरंग दल से जुड़ा हुआ है. फिलहाल पुलिस ने 3 आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर 2 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वहीं आदिवासी शख्स की पिटाई के वीडियो को मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने भी सोशल मीडिया 'X' पर पोस्ट किया है. साथ ही इस मामले पर एमपी के पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी ट्वीट किया है.

क्या है पूरा मामला

बेतुल एसपी सिद्धार्थ चौधरी ने मामले की जानकारी देते हुए कहा...

"शनिवार यानी 10 फरवरी की रात में एक वीडियो वायरल होने की जानकारी मिली थी, जब मालूम किया तो पता चला कि, एक आदिवासी समाज से आने वाले युवक के साथ मारपीट की गई है, उसे हमने तलाश किया. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है, एक आरोपी नामजद है, बाकी तीन अन्य आरोपी हैं."

एक आरोपी चंचल सिंह राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार किया. मामले में बाकी अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

एसपी सिद्धार्थ चौधरी आगे कहा, "यह शनिवार रात की घटना है, लेकिन युवक ने रिपोर्ट नहीं की थी, घटना के पीछे जो कारण सामने आया है, उसमें पीड़ित डीजे बजाने का काम करता है. डीजे का मालिक गुल्लू चित्रहार है. उसका विवाद चंचल सिंह राजपूत नामक युवक से है और दोनों के बीच पहले मारपीट की घटना हुई थी और उस विवाद में इस लड़के का कोई नाम नहीं था, सिर्फ वह उनके यहां काम करता है, इस कारण से ही उसके साथ मारपीट की गई.

पुलिस ने मारपीट करने वाले आरोपियों के विरुद्ध धारा 365, 323, 294, 506 वा SC/ST एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की है.

पीड़ित ने क्या बताया?

पीड़ित का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें वो कह रहा है, "मैं शनिवार रात में डीजे बजाकर घर वापस लौट रहा था, तभी मुझे चंचल सिंह और उसके साथियों ने रोका और फिर मुझे उठा कर ले गए और मेरे साथ मारपीट की और मुझे मुर्गा बना कर मेरा वीडियो बनाया. मैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी और बैतूल पूर्व विधायक निलय डागा जी से निवेदन करता हूं की मुझे इंसाफ दिलाया जाए."

"मध्यप्रदेश बना आदिवासी अत्याचार का गढ़"- जीतू पटवारी

यह वीडियो मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने एमपी कांग्रेस के 'X' हैंडल पर पोस्ट किया और लिखा-

"मध्यप्रदेश बना आदिवासी अत्याचार का गढ़, बैतूल जिले में बजरंग दल समर्थक ने आदिवासी युवक से मारपीट और अभद्रता की. मोदी भाषणों में झूट बोलते हैं, बीजेपी नेता आदिवासियों के घर लूटते हैं."

"बीजेपी सरकार की मानसिकता आदिवासी विरोधी है"- कमलनाथ

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी 'X' पर पोस्ट कर पीटने वाले व्यक्ति को सत्ताधारी पक्ष की विचारधारा का बताया और कहा,

बैतूल में आदिवासी युवक की पिटाई का वीडियो सामने आया है. पीटने वाला व्यक्ति सत्ताधारी पक्ष की विचारधारा का बताया जा रहा है. मध्य प्रदेश पहले ही आदिवासी अत्याचार में देश में नंबर वन है. इस तरह की घटनाएं बताती हैं कि बीजेपी सरकार की मानसिकता आदिवासी विरोधी है. मैं मुख्यमंत्री जी से मांग करता हं कि तत्काल सख्त कार्रवाई की जाए.
0

मामले को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक निलय डागा ने बताया कि पीड़ित युवक डीजे बजाने का काम करता है, उसे बजरंग दल के कुछ लोगों ने रोका. जिनमें से एक का नाम चंचल राजपूत बताया जा रहा है, जो की बजरंग दल में नर्मदापुरम संभाग सह संयोजक बताया जा रहा है. इन लोगों ने युवक का अपरहण किया और उसे एक कोने में ले जा करके बेहरमी से पीटा.

"आरोपी बजरंग दल से जुड़ा है इस बात की पुष्टि नहीं"

वही इस मामले को लेकर क्विंट हिंदी ने बेतुल एडिशनल एसपी कमला जोशी से बात की तो उन्होंने बताया, "मामले में लिप्त मुख्य आरोपी के संबंध में पुलिस की जांच में ये बात सामने नही आई है की वह बजरंग दल से जुड़ा हुआ है, केवल कुछ लोग ऐसा बोल रहे हैं कि वो बजरंग दल से जुड़ा है. मामले में तीन आरोपियों में से दो की गिरफ्तारी की जा चुकी है."

इनपुट- अब्दुल वसीम अंसारी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×