अंबानी धमकी केस में मनसुख की मौत पर हो निष्पक्ष जांच: दिग्विजय

मुकेश अंबानी के घर एक कार मिली थी जिसमें विस्फोटक पदार्थ जिलेटिन पाया गया था. 

Published
भारत
2 min read
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह 
i

मुकेश अंबानी के घर के बाहर जिसकी कार मिली थी, उस शख्स की मौत के बाद इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो गई है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्वियजय सिंह ने कई ट्वीट करके महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फड़णवीस पर सवाल उठाए हैं. बता दें कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने अंबानी धमकी वाले केस में NIA जांच की मांग की थी. उन्होंने आरोप लगाया कि चोरी की गई कार और मुंबई क्राइम ब्रांच यूनिट के API सचिन वाजे, जो कि इस केस में इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर थे, दोनों के बीच कोई संबंध है.

दिग्विजय सिंह ने शनिवार सुबह ट्वीट कर लिखा-

मनसुख हिरेन ने आत्महत्या कर ली, जिनकी गाड़ी में मुकेश अंबानी जी के निवास के सामने विस्फोटक पदार्थ पाए गए थे, यह अत्याधिक गंभीर प्रकरण है. इसकी निष्पक्ष जांच होना चाहिए.

वहीं एक और ट्वीट में दिग्विजय ने लिखा- ‘देवेंद्र फडणवीस जी ने जांच NIA को सौंपने की मांग कर इसे और शंका के घेरे में डाल दिया है. यह आत्महत्या है या हत्या है? जो भी जांच हो Supreme Court के निर्देशन में हो.

कम से कम मुझे NIA के Director General YC Modi पर भरोसा नहीं है, जो कि नरेंद्र मोदी जी के ना केवल चहते हैं, लेकिन उन्होंने जितने भी बम ब्लॉस्ट के प्रकरण जिनमें संघ के लोग पकड़े गए थे सभी प्रकरणों में संघी आरोपियों को राहत दी है. NIA की निष्पक्ष हो रही जांच की धारा ही बदल दी थी. 
दिग्विजय सिंह

बता दें कि मुकेश अंबानी के घर एक कार मिली थी जिसमें विस्फोटक पदार्थ जिलेटिन पाया गया था. इसी कार में से धमकी भरा नोट भी पाया गया था. अब 5 मार्च को ठाणे के डीसीपी ने जानकारी दी है कि जिस शख्स की ये कार थी, उन्होंने ठाणे के कलवा ब्रिज से छलांग मारकर सुसाइड कर लिया है, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई है. इस शख्स का नाम मनसुख हीरेन बताया जा रहा है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक अब इस मामले में एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है.

ये भी पढ़ें- मुकेश अंबानी के घर के बाहर जिसकी कार मिली थी, उसकी सुसाइड से मौत

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!