नक्सली हमले की इनसाइड स्टोरी,गांव खाली,700 हमलावर,28 की मौत

छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले के बाद से एक जवान लापता है.

Published
भारत
2 min read
झारखंड में बड़ा नक्सली हमला
i

छत्तीसगढ़ के सुकमा-बीजापुर बॉर्डर पर 3 अप्रैल को सुरक्षा बल और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ की इनसाइड स्टोरी सामने आई है. करीब 700-750 नक्सलियों ने गांव के घरों में घुसकर सुरक्षाबल को निशाना बनाया था. जिसमें 22 जवान शहीद हो गए. सीआरपीएफ ने दावा किया है कि इस हमले में जवानों ने 28 से ज्यादा नक्सलियों को मार गिराया है.

CRPF के महानिदेशक कुलदीप सिंह ने पूरे घटना की तस्वीर सामने रखी है. उन्होंने कहा, "जवान जब सर्च करके जंगलों से होते हुए आ रहे थे, तो टेकलागुड़म के पास नक्सली घात लगाए थे. उन्होंने अचानक जवानों पर गोली चलानी शुरू कर दी. हमारी फोर्स रणनीति के हिसाब से लड़ाई करने लगी. इसमें कई लोग घायल हो गए.

नक्सलियों ने गांव के घरों को आड़ बनाया

छत्तीसगढ़ पुलिस के मुताबिक नक्सलियों के घातक बटालियन 1 के कमांडर हिडमा की मौजूदगी की खुफिया जानकारी के आधार पर ऑपरेशन शुरू किया गया था. इसी जानकारी को देखते हुए 3 अप्रैल को DRG, एसटीएफ, कोबरा और सीआरपीएफ की संयुक्त नक्सल विरोधी अभियान टीम को ऑपरेशन के लिए रवाना किया गया था.

कुलदीप सिंह बताते हैं,

“टेकलागुड़म के पास गांव के सभी लोग भाग गए थे. नक्सलियों ने गांव के घरों को आड़ बनाया था. वहां से वे फोर्स पर हमला करते रहे. फोर्स उसका पूरा जवाब देती रही. 700-750 की संख्या में नक्सल मिलकर हमला कर रहे थे.”

एक जवान अब भी लापता

बता दें कि इस हमले में शहीद होने वालों में 8 DRG बीजापुर के जवान, 6 STF छत्तीसगढ़ के जवान, 7 कोबरा के जवान और 1 बस्तरिया बटालियन का जवान है. एक जवान अभी लापता है.

CRPF को अबतक नक्सलियों की तरफ से जवान को अगवा करने की कोई जानकारी नहीं मिली है. हालांकि CRPF के महानिदेशक का कहना है कि खबरें चल रही हैं कि एक जवान नक्सलियों के कब्जे में है. हालांकि अब तक माओवादियों ने जवान को वापस करने के बदले में कोई मांग नहीं रखी है.

"28 से ज्यादा नक्सली हुए ढेर"

कुलदीप सिंह के मुताबिक, नक्सलियों के शायद 28 लोग मारे गए हैं. वो कहते हैं, "ये सच है कि वे (नक्सली) अपने मारे गए सभी लोगों की संख्या को स्वीकार नहीं करते, लेकिन यह संख्या निश्चित तौर पर 28 से ज्यादा होगी. घायलों कि संख्या उससे ज्यादा होगी." वहीं इस हमले में करीब 30 जवान घायल हुए हैं. जिनका इलाज चल रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!