ADVERTISEMENT

इंग्लैंड की नरमी के बाद भारत ने भी वापस ली UK के लिए बनी सख्त ट्रैवल पॉलिसी

इससे पहले इंग्लैंड ने भारत के ऐतराज जताने पर कोविशील्ड लगवाने वाले यात्रियों को क्वारंटीन में छूट दी थी.

Updated
भारत
2 min read
<div class="paragraphs"><p>COVID-19 Travel Advisory</p></div>
i

इंग्लैंड (UK) द्वारा कोविशील्ड (Covishield Vaccine) लगवाकर जाने वाले भारतीयों को क्वारंटीन (quarantine) से छूट देने के बाद भारत ने भी अपनी रिवाइज्ड कोरोना गाइडलाइंस (revised corona guidelines) वापस ले ली हैं. दरअसल यूके ने हाल ही में बाहर से आने वाले उन लोगों को क्वारंटीन से राहत दी थी जो कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगवाकर आ रहे थे, लेकिन उस लिस्ट में भारत में बनी कोविशील्ड को शामिल नहीं किया गया था. जिस पर भारत ने कड़ा ऐतराज जताया था.

ADVERTISEMENT

इतना ही नहीं भारत ने 1 अक्टूबर को इंग्लैंड से आने वाले लोगों के लिए सख्त गाइडलाइंस जारी कर दीं. जिसमें 10 दिन क्वारंटीन अनिवार्य कर दिया गया. इसके अलावा 72 घंटे पुरानी आरटीपीसीआर (RTPCR) नेगेटिव रिपोर्ट भी उनके लिए अनिवार्य कर दी गई, साथ ही जो लोग वैक्सीन लगवाकर भारत आ रहे थे उन्हें भी इन नियमों में कोई छूट नहीं दी गई थी.

भारत की नाराजगी के बाद 8 अक्टूबर को इंग्लैंड ने दोबारा गाइडलाइन जारी कीं, जिसमें कोविशील्ड की दोनों डोज लेकर जाने वाले भारतीयों को भी क्वारंटीन से छूट दे दी गई. इसी का नतीजा है कि भारत ने भी इंग्लैंड के लिए जारी की नई गाइडलाइंस वापस ले लीं. अब इंग्लैंड से आने वाले लोगों के लिए 17 फरवरी 2021 वाली गाइडलाइंस लागू होंगी.
ADVERTISEMENT

फरवरी में जारी गाइडलाइंस में विदेशियों के लिए क्या नियम थे?

सभी इंटरनेशनल पैसेंजर्स को एयर सुविधा पोर्टल (Air Suvidha portal - www.newdelhiairport.in) पर सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्म (self-declaration) सब्मिट करना था.

पोर्टल पर 72 घंटे पुरानी कोरोना नेगिटव रिपोर्ट भी अपलोड करनी थी.

बोर्डिंग के समय asymptomatic यात्रियों को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद यात्रा करने की मंजूरी दी जानी होती है.

सीपोर्ट्स या लैंड पोर्ट्स के जरिए आने वाले सभी इंटरनेशनल पैसेंजर्स को प्रोटोकॉल से गुजरना होता है.

यूके, यूरोप और मिडिल ईस्ट से भारत आने वाले यात्रियों को अपने साथ कोरोना की नेगेटिव RT-PCR रिपोर्ट दिखानी होती है.

जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेकर आएंगे उन्हें क्वारंटीन नहीं होना पड़ेगा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT