ADVERTISEMENTREMOVE AD

रेप के आरोपी नित्यानंद की पूर्व शिष्या ने बताई हकीकत

पि‍टि‍शन में कहा गया है कि नित्यानंद कैसे आश्रम बच्चों का शोषण करता है और अपने विदेशी ग्राहकों को लूटता है.

Updated
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

खुद को भगवान बताने वाले नित्यानंद परमशिवम एक बार फिर विवाद में फंस गया है. उसके आश्रम में रहने वाली एक पूर्व योगी ने उस पर 'हिंदू धर्म के नाम पर गंभीर अत्याचार' करने का आरोप लगाया गया है.

'चेंज डॉट ओआरजी' और यूट्यूब पर एक याचिका में पूर्व योगी और अब व्हिसलब्लोअर ने बताया है कि कैसे नित्यानंद अपने आश्रम में रहने वालों, खासकर बच्चों को टॉर्चर करता था.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

'चेंज डॉट ओआरजी' की पि‍टि‍शन में कहा गया है कि नित्यानंद कैसे आश्रम बच्चों का शोषण करता है और अपने विदेशी ग्राहकों को लूटता है. इस पि‍टीशन पर हजार लोगों ने अब तक हस्ताक्षर किए हैं.

पि‍टिशन में लिखा है:

उन्होंने हमें धोखा देकर हमारी जिंदगी भर की बचत को अपने लाखों डॉलर बनाने के लिए इस्तेमाल किया. ऐसा माना जाता है कि उन्होंने फ्लोरिडा, अमेरिका के पूर्वी तट पर अपनी खुशी के लिए एक कैरिबियन द्वीप खरीदा है. बिदादी (बैंगलोर के पास) अपने आश्रम में वह 10 साल की उम्र के छोटे बच्चों को अंधेरे कमरे में बिना खाना और पानी के कई दिनों के लिए बंद कर देते हैं और ये सब वो गुरुकुल प्रशिक्षण की आड़ में करते हैं.”

व्हिसलब्लोअर ने धन्या राजेंद्रन से माफी मांगी

न्यूज वेबसाइट 'द न्यूज मिनट' की एडिटर-इन-चीफ धन्या राजेंद्रन को एक व्हिसलब्लोअर का माफीनामा ईमेल मिला है. बता दें कि नित्यानंद शिविर ने कथित तौर पर राजेंद्रन के खिलाफ एक ऑनलाइन अभियान शुरू किया था, जो सालों तक चला था.

राजेंद्रन कई साल से नित्यानंद के खिलाफ बलात्कार के आरोपों के बारे में स्टोरी कर रही हैं.

धन्या राजेंद्र कहती हैं:

“सालों से उनके (नित्यानंद) अनुयायियों ने मुझे निशाना बनाया, मुझ पर वीडियो और मीम बनाए और मेरे ट्विटर टाइमलाइन को भी स्पैम किया. यह महिला अब व्हिसलब्लोअर बन गई है. नित्यानंद के खिलाफ उसने जो आरोप लगाए हैं, वे गंभीर हैं, लेकिन मुझे गंभीरता से संदेह है कि कुछ भी हो सकता है जब तक कि कुछ रिपोर्टेड पीड़ित सामने न आएं और बोलें. हालांकि, एक पत्रकार के रूप में मुझे यह मेल पाकर खुशी हुई. मैं भावुक भी हुई. पिछले एक दशक में बहुत बार इन लोगों ने मुझे इस आदमी पर की गई स्‍टोरी के लिए निशाना बनाया है. यह जानना अच्छा था कि कम से कम उनमें से कुछ इस बुराई से दूर हो रहे हैं.”

माफीनामा वाले ईमेल में क्या कहा गया है:

“सबसे पहले मैं आपसे माफी मांगती हूं. आप एक बहादुर, मजबूत और ईमानदार महिला हैं, और नित्यानंद ने अपने पंथ में हम सभी से कहा था कि आप एक दानव हैं और आपको नष्ट किया जाना था. ट्विटर पर आप पर हमला करना था. निर्दोष बलात्कार पीड़िता, उसकी सहेलियों और आप के खिलाफ जो कुछ भी बेवकूफी भरी बातें कही गई हैं, उस पर पछतावा हो रहा है.”
धन्या राजेंद्रन को माफीनामा वाला ईमेल

कौन है नित्यानंद?

नित्यानंद के फेसबुक पेज के मुताबिक, वह "कैलासा को फिर से जीवित करनेवाला- प्रबुद्ध सभ्यता, सबसे बड़ा और एकमात्र हिंदू राष्ट्र" है. वह खुद को परमशिव का अवतार मानता है.

44 साल के नित्यानंद पर उसके आश्रम में रहने वाली एक शिष्य का पांच साल तक बलात्कार करने का आरोप है. जून 2018 में कर्नाटक के एक ट्रायल कोर्ट ने नित्यानंद के खिलाफ आरोप तय किए हैं. उसके खिलाफ धारा 376 (बलात्कार), 377 (अप्राकृतिक यौन संबंध), 420 (धोखाधड़ी), 114 (आपराधिक अपमान), 201 (साक्ष्य मिटाना, झूठी सूचना देना), 120 बी (आपराधिक षड्यंत्र) के तहत भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) के तहत मुकदमा चल रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×