ADVERTISEMENTREMOVE AD

"वो न खुद कुछ करेंगे और न ही करने देंगे", पीएम मोदी ने विपक्ष पर कसा तंज

पीएम मोदी ने अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत देश के 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी.

Published
भारत
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार, 6 अगस्त को विपक्ष पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार देश की भलाई के लिए जो कुछ भी कर रही है, उससे विपक्ष को आपत्ति है.

पीएम मोदी रविवार को 'अमृत भारत स्टेशन' योजना के तहत देशभर में 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखने के बाद बोल रहे थे. उन्होंने कहा, "दुर्भाग्य से हमारे देश में विपक्ष का एक धड़ा आज भी पुराने ढर्रे पर ही चल रहा है. वो आज भी खुद तो कुछ करेंगे नहीं और किसी को करने भी न देंगे. न काम करेंगे, न करने देंगे."

ADVERTISEMENTREMOVE AD
"देश ने आज की और भविष्य की जरुरतों को चिंता करते हुए संसद की आधुनिक इमारत बनवाई. संसद देश के लोकतंत्र की प्रतीक होती है. उसमें पक्ष-विपक्ष सबका प्रतिनिधित्व होता है. लेकिन विपक्ष के इस धड़े ने संसद की नई इमारत का भी विरोध किया."
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

इसके साथ ही पीएम ने कहा कि, "हमने कर्तव्य पथ का विकास किया, तो उसका भी विरोध किया गया. इन लोगों ने देश के 70 साल तक देश के शहीदों के लिए वॉर मेमोरियल तक नहीं बनाया. जब हमने नेशनल वॉर मेमोरियल बनवाया, उसका निर्माण किया, तो उसकी भी सरेआम आलोचना करते हुए शर्म नहीं आई."

सरदार पटेल के बहाने विपक्ष पर वार

पीएम ने सरदार पटेल के बहाने भी विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि "सरदार वल्लभ भाई पटेल का स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, आज दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति है. हर हिंदुस्तानी को गर्व होता है. कुछ राजनीतिक दल चुनाव के समय सरदार साहब को याद तो कर लेते हैं, लेकिन आज तक इनका एक भी बड़ा नेता न तो वहां जाकर सरदार साहब की भव्य प्रतिमा के दर्शन किए और न ही उन्हें नमन किया."

"साथियों हमने देश के विकास को सकारात्मक राजनीति से आगे बढ़ाने का फैसला लिया है. और इसलिए नकारात्मक राजनीति से ऊपर उठकर, सकारात्मक राजनीति के मार्ग पर एक मिशन के रूप में हम चल रहे हैं."

इसके साथ ही पीएम ने कहा कि "किस राज्य में किसकी सरकार है, कहां किसका वोट बैंक है. इस सबसे ऊपर उठकर हम पूरे देश में विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रहे हैं. सबका साथ, सबका विकास- ये धरती पर चरितार्थ करने के लिए जी जान से जुटे हैं."

अमृत भारत स्टेशन योजना की शुरुआत

पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अमृत भारत स्टेशन योजना को लॉन्च किया. उन्होंने अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत पूरे भारत में 508 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की आधारशिला रखी.

इस मौके पर पीएम ने कहा कि "विकसित होने के लक्ष्य की तरफ कदम बढ़ा रहा भारत अपने अमृत काल के प्रारंभ में है. नई ऊर्जा, प्ररेणा, संकल्प है. भारतीय रेल के इतिहास में भी एक नए अध्याय की शुरूआत हो रही है. भारत के करीब 1300 प्रमुख रेलवे स्टेशन अब अमृत भारत रेलवे स्टेशन के तौर पर विकसित किए जाएंगे और उनका पुनर्विकास आधुनिकता के साथ होगा."

इस पुनर्विकास परियोजना की लागत लगभग 25,000 करोड़ होगी. अधिकारियों के मुताबिक, पुनर्विकास परियोजना के लिए 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 508 स्टेशन चुने गए हैं.

इनमें उत्तर प्रदेश और राजस्थान के 55-55, बिहार के 49, महाराष्ट्र के 44, पश्चिम बंगाल के 37, मध्य प्रदेश के 34, असम के 32, ओडिशा के 25, पंजाब के 22, गुजरात और तेलंगाना के 21-21, झारखंड के 20, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के 18-18, हरियाणा के 15 और कर्नाटक के 13 स्टेशन शामिल हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×