CAA प्रोटेस्ट: जामिया से संसद तक मार्च, पुलिस ने ओखला में रोका

CAA प्रोटेस्ट: जामिया से संसद तक मार्च, पुलिस ने ओखला में रोका

भारत

भारी पुलिस बल की तैनाती के बीच दिल्ली में सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA), नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) के खिलाफ मंडी हाउस से जंतर-मंतर तक विरोध प्रदर्शन मार्च निकाला. दूसरी ओर, जामिया से संसद तक प्रोटेस्ट मार्च निकाला जा रहा था, लेकिन ओखला में ही सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को रोक दिया. इधर कानपुर में सीएए का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों को पुलिस द्वारा कथित तौर पर जबरन हटाए जाने के बाद तनाव पैदा हो गया.

Loading...

जामिया से संसद की ओर निकले प्रदर्शनकरियों को रोका गया

जामिया कोऑर्डिनेशन कमिटी (JCC) ने CAA, NRC और NPR के खिलाफ जामिया से संसद तक प्रोटेस्ट मार्च निकाला. प्रदर्शनकारी संसद की तरफ बढ़ रहे थे. जैसे ही प्रदर्शनकारी ओखला के होली फैमली अस्पताल के पास पहुंचे, वहां बड़ी तादाद में मौजूद सुरक्षा बलों ने बैरिकेड लगाकर उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया.

सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को रोक दिया.
सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को रोक दिया.
(फोटो - ANI)

मंडी हाउस से जंतर मंतर तक प्रदर्शन

दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ मंडी हाउस से जंतर मंतर तक विरोध प्रदर्शन मार्च निकाला गया. प्रदर्शन को लेकर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक संसद में बजट सत्र चलने की वजह से प्रोटेस्ट मार्च के लिए मंजूरी देने से इनकार कर दिया गया था. लेकिन इसके बावजूद महिलाओं और छात्रों सहित सैकड़ों प्रदर्शनकारी वहां इकठ्ठा हुए. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि उनके पास अनुमति है और वे जंतर-मंतर तक मार्च करेंगे.

मंडी हाउस से जंतर मंतर तक विरोध प्रदर्शन मार्च निकाला गया.
मंडी हाउस से जंतर मंतर तक विरोध प्रदर्शन मार्च निकाला गया.
(फोटो - ANI)
‘वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया’ ने इस प्रदर्शन का आह्वान किया था. ‘वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया’ के राष्ट्रीय सचिव सिराज तालिब ने कहा, ‘‘ हम सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. हमारे पास अनुमति हैं. मैंने पुलिस से बात की है और हम जंतर-मंतर की ओर मार्च कर रहे हैं.’’

इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया.

CAA विरोधी प्रदर्शनकारियों को जबरन हटाने पर कानपुर में तनाव

उत्तर प्रदेश में कानपुर के चमनगंज इलाके के मोहम्मद अली पार्क में सीएए का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों को पुलिस द्वारा कथित रूप से जबरन हटाए जाने के बाद सोमवार को तनाव पैदा हो गया. एडीएम सिटी विवेक श्रीवास्तव ने कहा कि प्रदर्शनकारी शनिवार को अपना प्रदर्शन खत्म करने की बात पर राजी हो गये थे और जिला प्रशासन ने उन्हें आश्वासन दिया था कि उनके खिलाफ लगाये गये मामले वापस ले लिए जायेंगे.

उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने जिलाधिकारी के साथ राष्ट्रगान गाकर अपना प्रदर्शन खत्म कर दिया था लेकिन उनमें से कई वहीं रुक गये थे.

एडीएम ने कहा कि प्रदर्शनकारियों से कहा गया था कि रविवार रात तक वे प्रदर्शन स्थल खाली कर दे. इस बीच कानपुर के जिलाधिकारी ब्रह्मदेव तिवारी ने प्रदर्शनकारियों पर किसी तरह का बल प्रयोग किए जाने की बात से इनकार किया है. उन्होंने बताया कि किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिये भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.

ये भी पढ़ें : दिल्ली चुनाव: जहां CAA का विरोध मजबूत, वहां मतदान हुआ ज्यादा

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

भारत
    Loading...