राजस्थान में प्रचार खत्म, सट्टा बाजार की पहली पसंद कांग्रेस
राजस्थान चुनाव
राजस्थान चुनाव(फोटो: The Quint)

राजस्थान में प्रचार खत्म, सट्टा बाजार की पहली पसंद कांग्रेस

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को चुनाव प्रचार खत्म हो गया है और अभी तक राज्य में कांग्रेस का पड़ला भारी नजर आ रहा है. है. बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है और आखिरी दो दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी ताकत राजस्थान में झोंक दी.

राजस्थान में चुनाव प्रचार के लिए बीजेपी ने सबसे आगे रही जिसने 222 बड़ी रैलियां और सभाएं कीं. इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की जनसभाएं शामिल हैं. .

7 दिसंबर को वोटिंग होगी और 11 दिसंबर को नतीजे आएंगे. लेकिन राजस्थान में पहले ओपिनियन पोल और आखिरी दिन तक सट्टा बाजार में कांग्रेस की जीत की उम्मीद लगाई जा रही है.

ABP-CSDS सर्वे

करीब महीने भर पहले के एबीपी न्यूज और CSDS के सर्वे में वसुंधरा सरकार की हार का अनुमान लगाया गया था. इसमें कांग्रेस को पूर्ण बहुमत मिलने की संभावना जताई गई है.

ABP न्यूज-CSDS सर्वे अनुमान

  • राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनने के आसार
  • सीटें- 200 और बहुमत के लिए चाहिए 101 सीट
  • बीजेपी- 84
  • कांग्रेस-110
  • अन्य -06 सीट

2013 की विधानसभा की तस्वीर

  • बीजेपी- 163 सीट
  • कांग्रेस- 21
  • अन्य-16 सीट

क्या कहता है इंदौर का सट्टा बाजार?

सट्टा बाजार को राजस्थान में वसुंधरा राजे की सरकार की वापसी पर भरोसा नहीं है. वोटिंग में अब कुछ ही वक्त बचा है लेकिन सट्टे भाव में ट्रेंड बरकरार है कि कांग्रेस की सरकार आ रही है.

इंदौर सट्टा बाजार के मुताबिक, 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस को 125 से 127 सीटें पर बराबरी का भाव मिल रहा है. यानी सट्टा बाजार को लगता है कि कांग्रेस इन नंबर तक आसानी से पहुंच जाएगी. राज्य में बहुमत के लिए 101 सीटों की जरूरत है. पिछले सट्टा बाजार भाव में भी कांग्रेस आगे चल रही थी और वो रुझान बरकरार है.

ताजा आंकड़ों में बीजेपी के लिए सिर्फ 56 से 58 सीटों पर बराबरी का भाव चल रहा है. 19 नवंबर वाले हफ्ते में बीजेपी को 51 से 54 सीटों के लिए बराबरी का भाव था.

सट्टा बाजार के भाव से साफ पता लगता है कि बीजेपी के लिए राजस्थान में वापसी का रास्ता काफी मुश्किल है.

कोलकाता सट्टा मार्केट के मुताबिक, वसुंधरा की वापसी की संभावना बहुत कम है. इसके मुताबिक राजस्थान की 200 सीट में से कांग्रेस को 131-132 सीटें मिल सकती हैं. तो बीजेपी का स्कोर 51-54 के आसपास ही रहेगा. 

फलौंदी का सट्टा बाजार

यहां चुनाव से लेकर क्रिकेट तक हार-जीत की बाजी लगती है. क्विंट हिंदी ने फलौंदी पहुंचकर सट्टा बाजार का माहौल समझा. यहां कुछ सटोरियों से बातचीत की. सटोरियों ने बताया कि 200 सीटों वाली राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस को 123 से 125 सीटों पर बराबरी का भाव मिल रहा है. यानी सट्टा बाजार को लगता है कि कांग्रेस इस नंबर तक आसानी से पहुंच जाएगी. वहीं बीजेपी को 57 से 59 सीटें मिल सकती हैं.

ये भी देखें-

छिपे कैमरे में कैद सट्टा बाजार, राजस्थान में किसकी बनेगी सरकार?

ये भी पढ़ें : क्या राजस्थान का चुनाव,रेगिस्तान के ‘जहाज’ की कहानी बदलेगा?  

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो