ADVERTISEMENTREMOVE AD

अब मेजर ध्यानचंद के नाम पर होगा राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड,PM मोदी ने किया ऐलान

मेजर ध्यानचंद का जन्मदिन भारत में “नेशनल स्पोर्ट्स डे” के रूप में मनाया जाता है

Updated
भारत
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

देश का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार- राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड का नाम बदल दिया गया है. मोदी सरकार ने राजीव गांधी की जगह ध्यानचंद खेल रत्न अवार्ड कर दिया है. इस बात की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी ने खुद दी है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पीएम मोदी ने ट्विटकर कहा,

देश को गर्वित कर देने वाले पलों के बीच अनेक देशवासियों का ये आग्रह भी सामने आया है कि खेल रत्न पुरस्कार का नाम मेजर ध्यानचंद जी को समर्पित किया जाए. लोगों की भावनाओं को देखते हुए, इसका नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है. जय हिंद.

पीएम ने आगे कहा, "मेजर ध्यानचंद भारत के उन अग्रणी खिलाड़ियों में से थे जिन्होंने भारत का सम्मान और गौरव बढ़ाया. यह सही है कि हमारे देश का सर्वोच्च खेल सम्मान उन्हीं के नाम पर रखा जाएगा.

बता दें कि ध्यानचंद हॉकी के महान खिलाड़ी रहे हैं. उनके जन्मदिन 29 अगस्त को खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है. उन्होंने 1936 में हुए बर्लिन ओलंपिक में 13 गोल दागे थे.

कब शुरू हुआ राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड

राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड की शुरुआत 1991-92 में हुई थी. सबसे पहले यह अवार्ड शतरंज खिलाड़ी विश्नाथन आनंद और बिलियर्ड्स खिलाड़ी गीत सेठी को दिया गया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×