ई-टिकटिंग रैकेट का भंडाफोड़, आरोपी गिरफ्तार, टेरर फाइनेंसिंग का शक

मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है

Published
भारत
1 min read
मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है
i

रेलवे पुलिस फोर्स (RPF) ने ई-टिकटिंग के रैकेट का भंडाफोड़ किया है, जिसमें टेरर फाइनेंसिंग का भी शक है. RPF के मुताबिक, इस गैंग का सरगना दुबई में रहता है. इस मामले में झारखंड के एक सॉफ्टवेयर डेवलपर को गिरफ्तार किया है, जिसके पास से करीब 563 आईआरसीटीसी आईडी बरामद की गई है.

RPG के डीजी अरुण कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गिरफ्तार आरोपी से पिछले 10 दिनों से पूछताछ जारी है, और IB, स्पेशल ब्यूरो, ईडी, एनआईए और कर्नाटक पुलिस पूछताछ कर रही है.

गिरफ्तार आरोपी का नाम गुलाम मुस्तफा है और उसे भुवनेश्वर से गिरफ्तार किया गया है. मुस्तफा के पास 563 आईआरसीटीसी आईडी है. उसके पास एसबीआई के 2,400 ब्रांच और 600 ग्रामीण बैंकों की लिस्ट मिली है. RPF को शक है कि इस लिस्ट में उसके बैंक अकाउंट्स हो सकते हैं.

RPF को इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनेंसिंग का भी शक है.

इस रैकेट का मास्टरमाइंड हामिद अशरफ बताया जा रहा है. डीजी अरुण कुमार के मुताबिक, इस रैकेट से अशरफ हर महीने 10 से 15 करोड़ की कमाई कर रहा है. अशरफ 2019 में गोंडा के स्कूल में हुए बम धमाकों में भी शामिल था.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!