ADVERTISEMENT
Live

समन के बावजूद जांच में सहयोग नहीं कर रहे राजीव कुमार: CBI

पूर्व कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं.

Updated
भारत
3 min read
समन के बावजूद जांच में सहयोग नहीं कर रहे राजीव कुमार: CBI
i
Hindi Female
listen to this story

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

पूर्व कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. सीबीआई ने रविवार को कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के खिलाफ करोड़ों रुपये के सारदा चिट फंड घोटाला मामले में लुकआउट नोटिस जारी किया है.एजेंसी ने इस हफ्ते सर्कुलर जारी किया है जिसमें सभी एयरपोर्ट और इमीग्रेशन ऑफिसर से कहा गया है कि वो आईपीएस अधिकारी को एक साल के लिए देश छोड़ने की अनुमति न दें और अगर वो विदेश यात्रा की कोशिश करते हैं तो उन्हें हिरासत में लिया जाए. सीबीआई कुमार को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ करना चाहती है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

4:45 PM , 27 May

राजीव कुमार ने सीबीआई को लेटर लिखकर और समय मांगा

सीबीआई अधिकारियों ने बताया कि कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर ने सीबीआई को लेटर लिखकर और पूछताछ के लिए पेश होने के लिए और वक्त की मांग की है. बता दें कि सीबीआई ने राजीव कुमार को समन देकर सोमवार को पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन राजीव कुमार नहीं पहुंचे.

राजीव कुमार ने खत में ये भी लिखा है कि अभी उनकी 3 दिनों की छुट्टी है इसलिए सीबीआई बाकी की कार्रवाई के लिए किसी और दिन को चुने.

ADVERTISEMENT
4:21 PM , 27 May

जांच में सहयोग नहीं कर रहे कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार

सीबीआई को मुताबिक कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. सीबीआई ने राजीव कुमार को समन देकर सोमवार सुबह पूछताछ के लिए पेश होने के लिए कहा था. लेकिन राजीव कुमार सीबीआई अधिकारियों के सामने नहीं पहुंचे.

10:04 PM , 26 May

राजीव कुमार पर क्या है आरोप?

1989 बैच के आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार पर पश्चिम बंगाल पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) का नेतृत्व करने के दौरान सबूतों से छेड़छाड़ करने और कुछ राजनेताओं को 2,500 करोड़ रुपये के सारदा चिट फंड घोटाले की जांच में बचाने की कोशिश का आरोप है. बाद में सीबीआई ने ये मामला अपने हाथ में ले लिया था. एसआईटी का गठन 2013 में ममता बनर्जी सरकार ने किया था.

साल 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया. सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट से कहा था कि वो कुमार से हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है क्योंकि जो सबूत मिले हैं कि राजीव कुमार ने आरोपियों को बचाने की कोशिश की. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कुमार की गिरफ्तारी पर रोक लगाने के अपने आदेश को वापस ले लिया.

ADVERTISEMENT
8:56 PM , 26 May

अनुज शर्मा बने कोलकाता के नए पुलिस कमिश्नर

अनुज शर्मा को कोलकाता का नया पुलिस कमिश्नर नियुक्त किया गया है.


Published: 26 May 2019, 8:50 PM IST
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
0
3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×