ADVERTISEMENTREMOVE AD

दिल्ली: 12 साल की बच्ची से दरिंदगी करने वाला हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार

12 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसे कैंची से गोद दिया गया

Updated
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

राजधानी दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में 12 साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के मामले में दिल्ली पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. दिल्ली पुलिस ने इस खौफनाक घटना को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी का नाम कृष्ण बताया गया है. पुलिस अब उससे पूरी घटना को लेकर पूछताछ कर रही है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

दिल्ली पुलिस पिछले कई घंटों से लगातार 12 साल की मासूम के साथ हैवानियत करने वाले की तलाश में जुटी थी. जिसके बाद आखिरकार पुलिस को सफलता हाथ लगी. इस घटना को लेकर ज्वाइंट सीपी वेस्टर्न रेंज शालिनी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि,

“4 अगस्त को 12 साल की एक बच्ची के साथ उत्पीड़न हुआ. जिसके बाद पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया. ये अमानवीय और घिनौना अपराध था, इसीलिए हमने तुरंत इस मामले को लेकर 20 टीमों का गठन किया, जिनका नेतृत्व डीसीपी आउटर डिस्ट्रिक्ट कर रहे थे. इन टीमों ने सैकड़ों सीसीटीवी कैमरों को खंगाला और जिन पर शक हुआ उनसे कड़ी पूछताछ की. जिसके बाद मुख्य आरोपी को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया और उसने कड़ी पूछताछ के बाद अपना जुर्म कबूल लिया.”
शालिनी सिंह, ज्वाइंट सीपी वेस्टर्न रेंज

मर्डर समेत चार केस हैं दर्ज

मासूम बच्ची के साथ कुकर्म करने वाले आरोपी पर पहले से ही कई संगीन मामले दर्ज हैं. उसके खिलाफ हत्या समेत कुल 4 मामले पहले से ही दर्ज हैं. ज्वाइंट सीपी ने बताया, "आरोपी को हमने गिरफ्तार कर लिया है. उसने ये बात कबूल कर ली है कि बच्ची को उसने असॉल्ट किया था. उसका नाम कृष्ण है और उम्र 33 साल है. उसके खिलाफ पहले से ही 4 क्रिमिनल केस दर्ज हैं. एक मर्डर का केस, दूसरा अटेंप्ट टू मर्डर का केस और अन्य दो आपराधिक मामले हैं. हम मामले की आगे जांच कर रहे हैं."

निर्भया जैसी हैवानियत की कोशिश

पश्चिम विहार इलाके में 12 साल की एक बच्ची जब अपने कमरे में अकेली थी, तब आरोपी ने उससे जबरन दुष्कर्म करने की कोशिश की. जब बच्ची ने उसका विरोध किया तो उसने कैंची से बच्ची के शरीर को नोच दिया. बताया जा रहा है कि बच्ची के शरीर पर कई अंदरूनी घाव भी हैं. इसीलिए इसे निर्भया जैसा मामला बताया जा रहा है. आरोपी ने बच्ची को मरा हुआ समझकर छोड़ दिया और वहां से भाग गया. इसके बाद खून से लथपथ बच्ची किसी तरह रेंगते हुए पड़ोसी के दरवाजे तक पहुंची और वहीं बेहोश हो गई. बच्ची की हालात देखकर पड़ोसी ने तुरंत पुलिस को फोन किया. जिसके बाद उसे एम्स में भर्ती कराया गया. फिलहाल बच्ची की हालत नाजुक बताई जा रही है.

सीएम अरविंद केजरीवाल भी बच्ची के परिवार से मिलने और उसका हाल जानने एम्स पहुंचे थे. जहां उन्होंने कहा कि जो भी दोषी है सरकार उसको कड़ी से कड़ी सजा दिलवाएगी. उन्होंने बच्ची के परिवार को 10 लाख रुपये का मुआवजा देने की भी बात कही.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×