भारत पहुंचा कोरोना का साउथ अफ्रीकन स्ट्रेन, 4 मरीज मिले

सभी यात्रियों और उनके संपर्कों को टेस्ट और क्वॉरंटीन किया गया है.

Published
भारत
1 min read
16 फरवरी को स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस ब्रीफिंग में ये जानकारी दी.
i

भारत में दक्षिण अफ्रीका वाले कोरोना वायरस स्ट्रेन का पहला मामला सामने आया है.

जनवरी में भारत में 4 लोगों में COVID-19 के साउथ अफ्रीकन स्ट्रेन का पता चला, जबकि SARS-CoV-2 के ब्राजील वेरिएंट के एक मामले का पता फरवरी के पहले सप्ताह में चला. ICMR के डायरेक्टर बलराम भार्गव ने मंगलवार, 16 फरवरी को स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस ब्रीफिंग में ये जानकारी दी.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के डीजी ने कहा, “भारत में, साउथ अफ्रीका से लौटे 4 लोगों में COVID-19 के साउथ अफ्रीकन स्ट्रेन का पता चला है. सभी यात्रियों और उनके संपर्कों को टेस्ट और क्वॉरंटीन कर दिया गया है.”

ब्राजील वेरिएंट को लेकर भार्गव ने कहा, "आईसीएमआर-एनआईवी-पुणे में वायरस स्ट्रेन (को) सफलतापूर्वक आइसोलेट और कल्चर किया गया था. वैक्सीन की प्रभावशीलता का आकलन करने के लिए प्रयोग चल रहे हैं. साउथ अफ्रीका और ब्राजील के वेरिएंट यूके वेरिएंट से अलग हैं."

(ANI इनपुट के साथ)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!