ADVERTISEMENT

शहीद अभिनव चौधरी के पिता बोले-एयरफोर्स से बाहर कीजिए MIG-21

पंजाब के मोगा में IAF का मिग-21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें स्क्वॉड्रन लीडर अभिनव चौधरी का निधन हो गया था

Updated
भारत
1 min read
<div class="paragraphs"><p>लगातार दुर्घटनाओंं का शिकार होते हैं मिग-21 विमान</p></div>
i

गुरुवार रात पंजाब के मोगा में मिग-21 बायसन फाइटर एयरक्रॉफ्ट क्रैश हो गया था. उस क्रैश में स्क्वॉड्रन लीडर अभिनव चौधरी की मौत हो गई थी. अब उनके पिता सतेंद्र चौधरी ने सरकार से मिग-21 विमान को एयरफोर्स से हटाने की अपील की है.

बता दें मिग-21 विमान लगातार दुर्घटनाओं का शिकार होते रहे हैं. इन विमानों को पांच दशक पहले वायुसेना में शामिल किया गया था.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, रोते हुए सतेंद्र चौधरी ने अपनी अपील में कहा, "मेरा बेटा मुझसे छिन गया. लेकिन मैं सरकार से हाथ जोड़कर अपील करता हूं कि मिग-21 फाइटर प्लेन को तुरंत वायुसेना से निकाल दिया जाए ताकि दूसरे पेरेंट्स को मेरे जैसा दुख ना झेलना पड़े."

बता दें अभिनव चौधरी ने अपनी शुरुआती स्कूली शिक्षा मेरठ से ही की थी. बाद में वे देहरादून स्थित राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कॉलेज चले गए. 2014 में उनका पहले ही प्रयास में एयरफोर्स में चयन हो गया था. इसके बाद उन्होंने पुणे में एनडीए की ट्रेनिंग ली और फिर हैदराबाद में एयर फोर्स अकादमी में प्रशिक्षण पूरा किया. उनकी पहली तैनाती पठानकोट एयरबेस पर थी.

अभिनव की दिसंबर, 2019 में शादी हुई थी. उनका ससुराल बालैनी क्षेत्र के मवीकलां गांव में है. उनके ससुर शिवकुमार जूनियर हाईस्कूल में हेडमास्टर हैं. अभिनव के परिवार में अब मां और पिता के अलावा पत्नी सोनिका उज्जवल और बहन मुद्रिका चौधरी हैं.

पढ़ें ये भी:

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT